पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अच्छे संकेत:7 महीने से मिन्नी सचिवालय की टेंडरिंग नहीं, मैथेमेटिक्स गैलेरी की इंस्टॉलमेंट पेंडिंग, कांजली का काम अंतिम चरण में पहुंचा

कपूरथला2 महीने पहलेलेखक: हरपाल रंधावा ​​
  • कॉपी लिंक
मिन्नी प्रशासनिक कांप्लेक्स का उद्घाटन करते हुए। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
मिन्नी प्रशासनिक कांप्लेक्स का उद्घाटन करते हुए। (फाइल फोटो)
  • महामारी घटने से टॉप 3 प्रोजेक्ट शुरू होने की उम्मीद
  • प्रोजेक्ट अटकने की वजह-फंड रिलीज होने में देरी, सरकार की प्लानिंग का ज्यादातर फोकस कोरोना से निपटने पर

कोरोना काल में कपूरथला के टॉप-3 प्रोजेक्ट प्रभावित हुए है। कोरोना प्रबंधों में लगे सभी विभागों के अधिकारियों के कारण किसी की टेंडरिंग नहीं हो पाई। किसी का एस्टीमेट नहीं लग पाया, किसी की इंस्टॉलमेंट पेंडिंग है। कपूरथला सांइंस सिटी 86 दिन बाद खुल गई है।

साइंस सिटी में देश की पहली मैथ गैलरी बनेगी। टेंडर हो चुके हैं, लेकिन इंस्टॉलमेंट का काम पेंडिंग था। अब यह काम भी जल्द शुरू होने की उम्मीद है। वहीं सुल्तानपुर लोधी में मिन्नी प्रशासकीय कांप्लेक्स बनना है। कोविड केसों में गिरावट आते ही इसके एस्टीमेट शुरू हो गए हैं।

इसी महीने काम भी शुरू होने की संभावना है। रही बात कांजली की। वहां के नवनिर्माण का काम भी रुका हुआ था। अब शुरू होगा। अंतिम चरण में सजावट की तैयारियां ही पेंडिंग हैं। जल्द ही शहर की तस्वीर बदलेगी।

साइंस सिटी प्रोजेक्ट : मैथ गैलरी के टेंडर हो चुके

पुष्पा गुजराल साइंस सिटी में जल्द ही देश की पहली (साइंस सिटी में) मैथेमैटिक्स गैलरी स्थापित होगी। इसके टेंडर हो चुके है। 24 मई से साइंस सिटी बंद थी। मैथेमैटिक्स गैलरी की इंस्टॉलमेंट का काम नहीं हो पाया। अब मैथेमैटिक्स गैलरी का प्रोजक्ट भी पूरा होने की उम्मीद बन गई है। मैथेमैटिक्स गैलरी में स्टूडेंट्स मैथ के प्रेक्टिकल के तौर पर सवालों के फराटेदार जवाब दे सकेंगे। यह दो गैलरी होगी।

एक मैथेमैटिक्स व दूसरी इलेक्ट्रीकल सिटी। मैथेमैटिक्स गैलरी में मैथ के सवालों को कैसे आसान बनाए जाएं। इस प्रोजेक्ट पर 4 करोड़ 10 लाख रुपए खर्च होने का अनुमान है। 1 करोड़ 64 लाख रुपए पंजाब सरकार से और 2 करोड 46 लाख रुपए केंद्र सरकार जारी करेगी।

3 करोड़ से बनेगा कांप्लेक्स : जल्द टेंडर लगेंगे

गुरु नानक देव जी के 551वें प्रकाश दिवस मौके पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सुल्तानपुर लोधी में मिन्नी प्रशासकीय कांप्लेक्स बनाने का तोहफा दिया था। कांप्लेक्स को लेकर एस्टीमेट शुरू हो गए थे। कोविड के कारण इसके टेंडर नहीं हो पाए। यह कांप्लेक्स 3 करोड़ रुपए की लागत से तैयार होना है। यह आधुनिक और बड़ा कांप्लेक्स होगा।

जहां एसडीएम व बीडीपीओ के दफ्तर समेत 10 बड़े अधिकारियों के दफ्तर होंगे। एसडीएम डॉ. चारुमिता ने कहा कि पहले एसडीएम दफ्तर की इमारत बहुत पुरानी हो चुकी है। मिन्नी प्रशासकीय कांप्लेक्स के एस्टीमेट का काम चल रहा है। एस्टीमेट फाइनल होने पर प्रोजेक्ट मॉडल तैयार होगा। जल्द ही इसके टेंडर लगने की संभावना है।

रुपए 1.82 करोड़ होंगे खर्च : विदेशी पक्षी दिखेंगे

कांजली जलगाह में अब फिर से विदेशी पक्षियों और पर्यटकों की रौणक दिखेगी। कांजली की उजाड़ हुई पन चक्कियां फिर से बहाल हो रही हैं। जहां पत्थरों से पीसा हुआ ठंडा आटा लोगों की पहली पसंद बनेगा। बुजुर्गों और महिलाओं के लिए ढाई किलोमीटर लंबी सैरगाह होगी। साथ में 5-5 फीट दोनों तरफ कंकरीट से साइक्लिंग ट्रैक बनेगा।

बोटिंग के लिए आधुनिक बोट होगी। आसपास टच स्क्रीन होगी जहां टूरिस्ट बैठ कर आनंद ले सकेंगे। यह प्रोजेक्ट लगभग पूरे हो चुके है। कोविड के कारण अंतिम चरण का काम रुका था। अब कोविड केसों मक होने से इसका काम फिर से शुरूहो रहा है। पूरे प्रोजेक्ट पर 1 करोड़ 82 लाख रुपए खर्च होंगे। जल्द ही कांजली की तस्वीर बदलेगी।

खबरें और भी हैं...