पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब 69 एक्टिव:रिकवरी रेट 96.52%, आरसीएफ में 23 लाख से लगा ऑक्सीजन प्लांट, 20 मरीजों को 24 घंटे होगी सप्लाई

कपूरथला20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना से एक और मौत, 5 नए संक्रमित मिले, 4 और मरीजों को ठीक होने पर मिली छुट्‌टी

अप्रैल-मई महीने के दौरान रेल कोच फैक्टरी में कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए भारतीय रेलवे ने ऑक्सीजन की नियमित सप्लाई के लिए आरसीएफ के लाला लाजपत राय अस्पताल में भर्ती मरीजों को नियमित रूप से ऑक्सीजन देने के लिए मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट लगाया है।

आरसीएफ महाप्रबंधक रविद्र गुप्ता का कहना है कि इस प्लांट की क्षमता 83 लीटर प्रति मिनट (5 एनएम3/एचआर) है, जो चौबीसों घंटे लगभग 20 रोगियों को मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई करेगा। दूसरी तरफ जिले में अब एक्टिव मरीज 69 रह गए हैं। आरटीपीसीआर की ओर से भेजी गई रिपोर्ट के मुताबिक 726 संदिग्ध मरीजों में से 3 मरीज पॉजिटिव और 2 एंटीजन
टेस्ट के जरिए 5 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिले का रिकवरी रेट 96.52 प्रतिशत हो गया है। दूसरी तरफ 1 कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हुई है।
इधर, जिलें में कुल मरीजों की संख्या 17650 हो गई है जबकि 17037 मरीज ठीक हो चुके है। कुल 547 की मौत हुई है। वहीं, 4 कोरोना संक्रमित मरीजों को छुट्‌टी मिली है।जिला एपेडीमोलॉजिस्ट डॉ. राजीव भगत ने बताया कि बुधवार को कोरोना संक्रमित मरीजों के 5 नए केस मिले हैं। इसमें 55 वर्षीय व्यक्ति गांव फजलाबाद, 60 वर्षीय व्यक्ति गांव नारंगपुर, गांव होठिया की रहने वाली 60 वर्षीय महिला, गांव सिधवां दोनां से 53 वर्षीय महिला तथा केसरी बाग में रहने वाला 25 वर्षीय युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। गांव ढिलवां का रहने वाला 47 वर्षीय व्यक्ति ने जालंधर के निजी अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।
प्लांट की शेड आरसीएफ के स्क्रैप मटीरियल से बनी
बुधवार को आरसीएफ के लाला लाजपत राय अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगाया गया। इसका उद्धाटन महिला कल्याण संगठन की अध्यक्ष नीता गुप्ता ने किया। आरसीएफ के जीएम रविंदर गुप्ता ने बताया कि इस प्लांट को तैयार करने में लगभग 23 लाख रुपए खर्च आया है। ऑक्सीजन प्लांट को लगाने के लिए प्लांट, मेडिकल, सिविल और इलेक्ट्रिकल विभागों की सराहना की। सभी विभागों के लिए नकद पुरस्कार देने की घोषणा भी की गई है। इस मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट की शेड को सिविल विभाग की ओर से आरसीएफ के स्क्रैप मटीरियल से बनाया गया है। यह प्लांट प्रेशर स्विंग एब्जॉर्प्शन तकनीक पर आधारित है, इससे कंप्रेस्ड हवा जिसमें 21% ऑक्सीजन और 78% नाइट्रोजन होती है।
1925 संदिग्धों के लिए सैंपल
सिविल सर्जन डॉ. परमिंदर कौर ने बताया कि बुधवार को सेहत विभाग ने जिले से 1925 संदिग्ध लोगों के सैंपल लिए है। इसमें आरटीपीसीआर से 1236, एंटीजन से 688 व ट्रनेट से 1 सैंपल लिए हैं। इन सैंपल में कपूरथला से 519, फगवाड़ा से 269 व भुलत्थ से 63 सैंपल शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...