पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एनपीए के विरोध में सभी सेवाएं पूरी तरह से बंद:सिविल अस्पताल फगवाड़ा में दूसरे दिन ठप रहीं सेवाएं, पंजाब सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

फगवाड़ा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पीसीएमएस एसोसिएशन की ओर से सिविल अस्पताल में दूसरे दिन एनपीए के विरोध में सभी सेवाएं पूरी तरह से बंद रहीं। इस दौरान सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं जारी रहीं। डॉ. सुखविंदर पाल सिंह और पीसीएमएस एसोसिएशन सिविल अस्पताल फगवाड़ा के नेता डॉ. रवि कुमार ने कहा कि तीन दिन (12, 13, 14) के लिए हड़ताल का आह्वान किया गया है।

पंजाब के तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री बलवीर सिंह सिद्धू ने डॉक्टरों को आश्वासन दिया था कि उनकी मांगों को पूरा किया जाएगाा। पीडीडी सेवाएं ठप हो गईं हैं। डॉ. सुखविंदर पाल सिंह और डॉ. रवि कुमार ने कहा कि सरकार ने एसोसिएशन को आश्वासन दिया था कि उनकी मांगों पर विचार किया जाएगा लेकिन सरकार ने अभी तक अपनी चुप्पी नहीं तोड़ी है।

डीसी पहुंचीं फगवाड़ा, सिविल के डॉक्टर्स ने दिया ज्ञापन

डिप्टी कमिश्नर कपूरथला दीप्ति उप्पल ने फगवाड़ा के सिविल अस्पताल में दौरा किया। इस दौरान फगवाड़ा के सिविल अस्पताल में निर्माणाधीन बिल्डिंग का निरीक्षण किया। डीसी ने फगवाड़ा के सिविल अस्पताल में स्थित ब्लड बैंक के बाद ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण भी किया। डीसी ने बताया कि जिला में कोविड-19 के मामलों में कमी आई है।

कोविड-19 की थर्डवेव को लेकर प्रशासन की ओर से बैठकों का दौर चल रहा है। इसमें स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ-साथ हेल्थ सेंटर्स का भी दौरा किया जा रहा है। उन्होंने जनता से अपील की कि वे कोविड-19 की नियमों की पालना करें। भीड़भाड़ के इलाकों में विजिट करना परहेज करें। जिले में वैक्सीन की उपलब्धता के लिए उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेज दी गई है।

मौके पर हड़ताल पर चल रहे कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर डीसी कपूरथला को ज्ञापन भी दिया। उन्होंने ब्लड बैंक में ब्लड सेपरेशन मशीन तथा अन्य कार्यों के बारे में रिपोर्ट भी तलब की। इस मौके पर एडीसी फगवाड़ा राजीव वर्मा, ए एसएम फगवाड़ा डॉक्टर लैंबर राम तथा अन्य डाक्टर उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...