पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वारदात:16 दिन में लूट की दो बड़ी वारदातें, कोई भी ट्रेस नहीं, आरसीएफ के कर्मियों से कार छीनने और टोल प्लाजा पर लूट करने वाले एक ही मोटरसाइकिल पर आए थे

कपूरथला8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

17 दिन पहले टोल प्लाजा ढिलवां पर लूट और आरसीएफ के कर्मचारियों को एक्सीडेंट करने का बहाना बना कर कार छीनने वाले लुटेरे एक ही हो सकते है क्योंकि टोल प्लाजा पर एक ही मोटरसाइकिल पर आए तीन लुटेरों ने लूट की थी और कार भी तीन लुटेरों ने ही छीनी है। यह लुटेरे भी एक ही मोटरसाइकिल पर सवार थे। दोनों घटनाओं में लुटेरे 30 से 35 वर्ष की आयु के है।

फिलहाल पुलिस सीसीटीवी फुटेज में मिले लुटेरों के सुराग से उनकी पहचान में लगी है। पुलिस को भी संदेह है कि दोनों लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाला एक ही गिरोह हो सकता है। पुलिस ने कई संदिग्धों के घरों में छापेमारी भी की लेकिन अभी तक पुलिस को लुटेरों का कोई सुराग नहीं मिला है।

बता दें कि सुरजीत सिंह निवासी कोकलपुर रेल कोच फैक्टरी कपूरथला में फर्नीशिंग वर्कशॉप में काम करता है। 12 अक्टूबर को वही अपनी स्विफ्ट डिजायर कार (पीबी09जेड-4722) में ड्यूटी से लौट रहा था। शाम सवा 5 बजे कुष्ट आश्रम के पास एक मोटरसाइकिल पर तीन युवकों ने अपना मोटरसाइकिल बराबर लगाकर कार को रोक लिया। कहने लगे कि तूने कार से लड़की का एक्सीडेंट कर दिया है।

जैसे ही सुरजीत सिंह ने कार रोकी तो तीनों युवकों ने तेजधार दातर निकाल लिए। हमलावरों ने धक्का मुक्की करते कार की चाबी भी छीन ली और दो युवक कार लेकर अमृतसर चुंगी की तरफ फरार हो गए जबकि एक मोटरसाइकिल पर मोहल्ला मेहताबगढ़ की तरफ भाग गया। जाते हुए उसने सुरजीत सिंह के हाथ से मोबाइल भी छीन लिया। तीनों लुटेरे 32 से 34 वर्ष की आयु के थे।

वहीं, 28 सितंबर को रात 11.55 बजे तीन लुटेरों ने ढिलवां में टोल प्लाजा से 30 हजार रुपए लूट लिए थे। तीनों लुटेरे एक ही मोटरसाइकिल पर अमृतसर की तरफ से आए थे। तीनों ने मुंह ढके हुए थे। एक लुटेरे के हाथ में दातर था, जिसने दातर से केबिन को तोड़ दिया। दूसरे ने पिस्तौल दिखा कर काउंटर नंबर 1 में बैठे मुलाजिम अर्शदीप सिंह से 30 हजार रुपए लूट लिए थे। तीसरा लुटेरा मोटरसाइकिल पर सवार था।

कैश लूटने के बाद तीनों मोटरसाइकिल पर ही फरार हो गए थे। लूट की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई थी। तीनों लुटेरे 30 से 35 वर्ष की आयु के बीच के थे। थाना सिटी के एएसआई दविंदर सिंह ने बताया कि ढिलवां टोल प्लाजा व कार लूट की घटना को अंजाम देने वाला गिरोह एक ही तो नहीं था। इसकी जांच के लिए दोनों फुटेज खंगाल कर लुटेरों की पहचान की जा रही है।

खबरें और भी हैं...