पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

किसानो का विरोध:किसान मजदूर एकता मंच ने गांव कल्याणपुर में भी रिलायंस का पेट्रोल पंप बंद करवाया, नारेबाजी की

कीरतपुर साहिब12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गांव कल्याणपुर में रिलायंस पंप को बंद करवा रोष जताते किसान मजदूर एकता मंच के नेता।
  • कहा- विरोध देखकर भी सरकार सही कदम नहीं उठा रही, मजबूरन पंप बंद करवा रहे

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का विरोध जारी है। रविवार को किसान मजदूर एकता मंच ने कीरतपुर साहिब-बिलासपुर राष्ट्रीय मार्ग पर गांव कल्याणपुर में स्थित रिलायंस पंप को बंद करवाकर धरना दिया और केंद्र की भारतीय जनता पार्टी की सरकार खिलाफ नारेबाजी की। वक्ताओं ने कहा कि भारत सरकार सिर्फ़ अंबानियों, अडानियों को लाभ पहुंचाने के लिए गरीब लोगों और किसानों के साथ धक्का कर रही है।

इसके लिए आज मजबूरन किसानों को आंदोलन करके रिलायंस के पेट्रोल पंप भी बंद करने पड़ रहे हैं। केंद्र सरकार विदेशों से पेट्रोल सस्ते रेट पर खरीद रही है परंतु अपने देश में तेल की कीमतें आसमान छू रही हैं। इससे साफ है कि केंद्र सरकार बड़ी कंपनियां को फ़ायदा देने के लिए ऐसा कर रही है। केंद्र सरकार की तरफ से जो कृषि कानून पास किए गए हैं।

उसका मुख्य मकसद भी बड़ी कंपनियां को फ़ायदा दिलाना है, न कि किसानों को। अब भी केंद्र सरकार किसान संघर्ष को रोकने के लिए कोई भी सही कदम नहीं उठा रही, जिस कारण किसानों में गुस्सा बढ़ता जा रहा है। आने वाले दिनों में यह संघर्ष और भी तेज किया जाएगा।

इस मौके आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉक्टर संजीव गौतम, तरलोचन सिंह चट्ठा, डॉ. खुशहाल सिंह बरूवाल, संजीव राणा, मास्टर हरदयाल सिंह, डॉक्टर शमशेर सिंह, जोरावर सिंह भाऊवाल, जगजीत सिंह जग्गी, हरजिन्दर सिंह मस्सेवाल, निर्मल सिंह हरीवाल, हरमिंदर सिंह, जसपाल सिंह, केसर सिंह, बाबू चमन लाल, गुरदीप सिंह ताजपुरा आदि उपस्थित थे।

रेल रोको आंदोलन 18वें, सोलखियां में 10वें व झल्लीयां टोल प्लाजा पर धरना 5वें दिन जारी

रोपड़/चमकौर साहिब कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का रेलवे चौक नंगल में रेल रोको आंदोलन 18वें दिन, सोलखियां टोल प्लाजा पर 10वें दिन अौर गांव झल्लीयां कलां टोल प्लाजा पर 5वें दिन धरना जारी रहा। किसानों ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की अौर कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग की।

रोपड़ में रेलवे ट्रैक पर धरना दे रहे किसान यूनियन राजेवाल के गुरमेल सिंह बाड़ा, कादीयां यूनियन के गुरनाम सिंह जसड़ां, प्रगट सिंह रोलू माजरा, रुपिंदर सिंह रूपा ख्वासपुरा, गुरदेव सिंह बागी, मोहण सिंह धमाणा ने कहा कि कानून को रद्द करवाने के लिए 26-27 नवंबर को दिल्ली में पहुंचकर जान की कुर्बानी देने को भी तैयार हैं।

यहां मेजर सिंह मांगट, दविंदर नंगली, गुरनैब सिंह, नरिंदर सिंह कंग, दलीप सिंह घनौला, भाग सिंह मदान, रणजीत सिंह पतियालां, दलजीत कौर, जत्थेदार भाग सिंह, एडवोकेट महिंदर सिंह उपस्थित थे।वहीं किसान यूनियनों व पंचायतों की तरफ से सोलखियां टोल प्लाजा पर जैलदार सतविंदर सिंह चैड़ीयां, सरपंच सतप्रीत सिंह ककोट, रणदीप कुमार, गुरिंदर सिंह, हरप्रीत सिंह हैपी, कमलजीत सिंह, स्वर्ण सिंह भंगू, सरपंच सतनाम सिंह बहरामपुर, दिलबर सिंह पुरखाली, सरपंच हरविंदर सिंह, सुखविंदर सिंह बिंदरख, सरपंच हरजिंदर सिंह, पूर्व सरपंच मेवा सिंह, जत्थेदार बहादर सिंह, अवतार सिंह पप्पी, सोहण सिंह, सचिव मोहन सिंह, गुरमुख सिंह आदि ने बताया कि जब तक यह बिल वापस नहीं हो जाते तब तक संघर्ष जारी रखा जाएगा।

वहीं, झल्लीयां कलां टोल प्लाजा पर 31 किसान जत्थेबंदियों ने केंद्र सरकार से अपना हक मांगा। इस धरने दौरान किसानों के हक में पंजाबी फिल्मों के अदाकार मलकीत सिंह रौणी व शमिंदर माहल भी पहुंचे। उन्होंने किसानों को हौसला देते हुए कहा कि पूरी पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी हैं।

इस मौके प्रगट सिंह, स्वर्ण सिंह, गोगी गिल, हरिंदर सिंह, सरपंच बलजीत सिंह, दर्शन सिंह ठेकेदार, बलवंत सिंह, अमरिंदर सिंह, सरपंच दलवीर सिंह, गुरमीत सिंह, हरमिंदर सिंह, बलदेव सिंह, डॉ हरप्रीत सिंह, पूर्व पंच गजन सिंह, गुरप्रीत सिंह आदि मौजूद थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपनी दिनचर्या को संतुलित तथा व्यवस्थित बनाकर रखें, जिससे अधिकतर काम समय पर पूरे होते जाएंगे। विद्यार्थियों तथा युवाओं को इंटरव्यू व करियर संबंधी परीक्षा में सफलता की पूरी संभावना है। इसलिए...

और पढ़ें