पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सतलुज सदन का गेट बंद करके घेराव किया:मीटिंग न करने से गुस्साए बीबीएमबी कर्मचारी सतलुज सदन में चेयरमैन का किया घेराव

नंगल2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बीबीएमबी की मान्यता प्राप्त यूनियन व साझा फ्रंट ने अपनी मांगों को लेकर नंगल दौरे पर आए बीबीएमबी के चेयरमैन संजय श्रीवास्तव का सतलुज सदन का गेट बंद करके घेराव किया। यूनियन मेंबरों ने घेराव का कारण चेयरमैन द्वारा मांगों को लेकर मीटिंग करने से इंकार करना बताया गया। चेयरमैन द्वारा मीटिंग करने से इंकार करने पर गुस्साए कर्मचारियों ने मैनेजमेंट पर कर्मचारियों की मांगों को नजरअंदाज करने के आरोप लगाए और बीबीएमबी मैनेजमेंट सहित चेयरमैन के खिलाफ नारेबाजी की। मामले को तूल पकड़ता देख बीबीएमबी अधिकारियों ने चेयरमैन के साथ यूनियन मेंबरों की मीटिंग करवाई। मीटिंग में चेयरमैन ने कर्मचारियों की मांग फैमिली स्पोर्ट फंड को अप्रूव करवाने का आश्वासन दिया।मान्यता प्राप्त यूनियन व साझा फ्रंट के अध्यक्ष सतनाम सिंह लाडी व सीनियर मेंबर हरपाल राणा ने कहा कि फैमिली स्पोर्ट फंड समेत अन्य मांगों को लेकर उनकी बीबीएमबी मैनेजमेंट से कई बार बात हुई। मैनेजमेंट ने हर मीटिंग में फैमिली स्पोर्ट फंड समेत अन्य मांगें पूरी होने की बात कही लेकिन आज तक मांगों को लेकर कोई पत्र जारी नहीं हुआ।

मंगलवार को उन्हें पता चला कि बीबीएमबी चेयरमैन सतलुज सदन में आए हुए हैं तो उन्होंने उनसे मीटिंग करने की अप्रोच की लेकिन चेयरमैन समेत अन्य अधिकारियों ने मीटिंग करने से इंकार कर दिया। जबकि यह नियम है कि यूनियन के साथ अधिकारियों का मीटिंग करना जरूरी है और वे इंकार नहीं कर सकते। मीटिंग न करने के निर्देश से कर्मचारी आक्रोश में आ गए।

यूनियन ने फैसला किया कि जब तक मीटिंग नहीं होती और उनकी मांगों को पूरा करने का कोई पक्का आश्वासन नहीं मिलता, तब तक वे चेयरमैन को सतलुज सदन से बाहर नहीं आने देंगे। कर्मचारियों की संख्या व गुस्सा बढ़ता देख उन्हें अंदर से बुलावा गया। उन्होंने फैसला लिया कि मीटिंग सभी यूनियन मेंबरों के सामने हो। फिर अधिकारियों ने 10 मेंबर आने का बुलावा भेजा।

बाद में यूनियन के 10 वरिष्ठ सदस्यों की मीटिंग चेयरमैन से हुई। मीटिंग में चेयरमैन ने कहा कि फैमिली स्पोर्ट फंड की मांग को एक सप्ताह में अप्रूव कर दिया जाएगा। बाकी डीए की किस्तें दीपावली तक जारी कर दी जाएंगी। इसके अलावा अन्य मांगों को भी एक महीने तक पूरा करने का आश्वासन दिया है। यूनियन अध्यक्ष सतनाम सिंह लाडी ने बताया कि अगर इस बार मांगें न मानी तो संघर्ष कड़ा होगा, अगली बार घेराव तब हटेगा जब तक पत्र जारी नही होता। इस मौके पर विनोद राणा, नवीन चंद्र शर्मा, कुलदीप सिंह, परमजीत राणा, रहमत अली, शिव कुमार, यशपाल, संदीप गुलाटी, गोपाल, बिमल दास, बलबीर, विजय कुमार, हरजिंदर सिंह गजपुर, रणवीर राणा, गौरव कुमार, विनोद कुमार, विनय कुमार, सुरेश शुक्ला आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...