पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सरकारी स्कूलों का कायाकल्प:100% रिजल्ट, 22 लाख इनाम; बेहतर स्टाफ और स्कूलों में आधुनिक सुविधाओं की बदौलत 3 सरकारी स्कूलों को मिला अवार्ड

नवांशहर13 दिन पहलेलेखक: विपन कुमार
  • कॉपी लिंक
बेहरतीन बुनियादी ढांचे की बदौलत 3 स्कूलों को साढ़े 22 लाख रुपए का इनाम दिया जा रहा है। - Dainik Bhaskar
बेहरतीन बुनियादी ढांचे की बदौलत 3 स्कूलों को साढ़े 22 लाख रुपए का इनाम दिया जा रहा है।
  • सरकार, एनआरआइज व दानी सज्जनों के सहयोग से हुआ सरकारी स्कूलों का कायाकल्प
  • मालेवाल स्कूल को 10 लाख, कोटरांझा हाई स्कूल को साढ़े 7 लाख व भंगल खुर्द को मिलेंगे 5 लाख

जिले में विद्यार्थियों की अच्छी कारगुजारी, शिक्षा के प्रति समर्पित स्टाफ और बेहरतीन बुनियादी ढांचे की बदौलत 3 स्कूलों को साढ़े 22 लाख रुपए का इनाम दिया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार 10 लाख रुपए का इनाम जीतने वाला चौधरी मेला राम भूंबला सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल मालेवाल, साढ़े 7 लाख रुपए का इनाम जीतने वाला सरकारी हाई स्कूल कोटरांझा और 5 लाख रुपए का इनाम जीतने वाला सरकारी मिडल स्कूल भंगल खुर्द है। सरकार की ओर से स्कूलों की बेहतरीन कारगुजारी को देखते हुए व स्कूल के अच्छे व सुंदर बुनियादी ढांचे की बदौलत यह इनाम दिए गए हैं। उम्मीद है कि ये स्कूल आगे जाकर भी यही प्रदर्शन जारी रखेंगे।

स्कूल मालेवाल, खुले हवादार क्लास रूम उपलब्ध

सरकारी स्कूल मालेवाल की बात करें तो प्रिंसिपल विजय कुमार की अगुआई में स्कूल स्मार्ट स्कूल में तबदील हुआ है। जिसमें क्षेत्र के दानी सज्जनों के अलावा शिक्षा विकास कमेटी और इंडस्ट्री द्वारा भी भरपूर योगदान डाला गया है। स्कूल का बोर्ड की क्लासों का नतीजा 100 फीसदी रहा है।

जबकि नए सेशनों में स्कूल में विद्यार्थियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। स्कूल में खुले हवादार क्लास रूम, सहित आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध हैं। जबकि विद्यार्थियों को लाने व ले जाने के लिए ट्रांसपोटेशन का प्रबंध है।

हाई स्कूल, स्मार्ट स्कूल व टच बोर्ड उपलब्ध

हाई स्कूल कोटरांझा की बात की जाए तो हेडमास्टर लखवीर सिंह की अगुआई में स्कूल को स्मार्ट स्कूल में तबदील किया गया है। बता दें कि क्षेत्र के दानी सज्जनों व एनआरआईज के सहयोग से स्कूल में स्मार्ट क्लास रूम, टच बोर्ड, एजुकेशन पार्क सहित आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध हैं। इसके अलावा स्कूल का नतीजा भी शानदार रहा है। इसके अलावा स्कूल में नए सेशन में दाखिले में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

स्कूल भंगल खुर्द, प्रोजेक्टर के माध्यम से करवाई जाती है पढ़ाई

सरकारी मिडल स्कूल भंगल खुर्द को 2020-21 में ओवरऑल ग्रेडिंग के आधार पर फिर से सर्वश्रेष्ठ स्कूल का दर्जा प्राप्त हुआ है। पिछले साल भी स्कूल को सर्वश्रेष्ठ चुना गया था। स्कूल प्रमुख परविंदर सिंह भंगल की देखरेख में बीते साल इनाम की मिली पांच लाख रुपए की राशि से स्कूल में सुंदर पार्क, हर्बल पार्क, एजुकेशनल पार्क बनाई गई है। स्कूल में बीते सालों से इस साल ज्यादा दाखिला हुआ है।

स्कूल में एनआरआई परिवारों द्वारा ज्यादा विकास करवाया जा रहा है। सरकार, समाज सेवकों व एनआरआई के सहयोग से स्कूल को स्मार्ट स्कूल बनाया गया है और स्कूल में प्रोजेक्टर के माध्यम से पढ़ाई करवाई जाती है।

खबरें और भी हैं...