आमजन परेशान:रोडवेज की 95 में से 85 बसें बंद, अस्पताल में नर्सिंग छात्राओं के हवाले मरीज, तहसील में कई काम पेंडिंग

नवांशहरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एनएचएम व नर्सिंग स्टाफ, पनबस कर्मी, तहसील में पटवारी व कानूनगो सब हड़ताल पर

चुनाव आचार सहिंता लगने से चंद दिन पहले कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन तेज कर दिए हैं। विजीलेंस की ओर से माहिलपुर के नायब तहसीलदार संदीप कुमार व रजिस्ट्री क्लर्क मनजीत सिंह की गिरफ्तारी के विरोध में पहले ही हड़ताल पर चल रहे हैं। वहीं मंगलवार को पंजाब रोडवेज के पनबस कर्मचारी व सेहत विभाग में तैनात नर्सिंग स्टाफ भी अपनी विभिन्न मांगों को लेकर हड़ताल पर चले गए हैं।

हालात ये हैं कि अधिकतर दफ्तरों में लोगों के काम नहीं हो पा रहे। बुधवार को सरकारी छुट्‌टी है। ऐसे में अगर वीरवार व शुक्रवार को भी मामले हल नहीं हुए तो फिर पूरा सप्ताह ऐसे ही बीतना तय है। रेवेन्यू कोर्ट्स में भी सैकड़ों केसों पर सुनवाई नहीं हो रही। बता दें कि एनएचएम कर्मचारियों के बाद मंगलवार को अपनी मांगों को लेकर जिले के अस्पतालों में तैनात नर्सिंग स्टाफ भी हड़ताल पर चला गया है, जिसके कारण अस्पताल में बीमार मरीजों की देखभाल व वैक्सीनेशन ड्राइव की पूरी जिम्मेदारी नर्सिंग कॉलेज के विद्यार्थियों पर आ गई है। लेकिन सबसे बड़ी दिक्कत इमरजेंसी में है। जहां ट्रेंड स्टाफ न होने के कारण डॉक्टरों को भी सर्जरी आदि करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

खबरें और भी हैं...