मामला दर्ज:एटीएम व खाता बंद होने की काॅल आने के बाद आया ओटीपी बताने पर ट्रांसफर हो गए सवा 2 लाख रुपए

नवांशहर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • थाना पोजेवाल पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ दर्ज किया मामला

गांव सड़ोया के रहने वाले हरजाप सिंह ने पुलिस से की शिकायत में कहा कि उनके बैंक खाते से किसी ने 2 लाख 24 हजार 998 रुपए निकलवा लिए। पुलिस ने शिकायत के आधार पर जांच की ताे सामने आया कि हरजाप को 16 जून को सुबह करीब साढ़े 10 बजे फोन आया कि बैंक से एक व्यक्ति ने कर्ज लिया है, जिसकी गवाही हरजाप ने दी है, मगर उसने किश्त नहीं दी। इसलिए उसने उसे किश्त देने संबंधी मैसेज किए। फोन सुनने के कुछ समय बाद हरजाप सिंह किसी कार्यक्रम में चले गए। वहां पर उन्हें एक नंबर से कई बार फोन आए।

कार्यक्रम स्थल से उठकर बाहर आकर जब फोन आया तो वे समझे कि बैंक से बैंक मैनेजर का फोन है क्योंकि फोन करने वाला बैंक खाते संबंधी बात कर रहा था। फोन करने वाले ने उन्हें कहा कि उनका पीएनबी से संबंधित खाता व एटीएम बंद हो गया है। अगर वे इसे चलाना चाहते हैं तो एटीएम व खाता नंबर लिखवा दो। पीड़ित ने विश्वास करके सारी जानकारी फोन करने वाले को बता दी। जिसके बाद फोन करने वाले ने उन्हें कहा कि फोन पर जो 6 डिजिट वाला नंबर आया है वह उन्हें बता दे। फोन करने वाले ने उनसे करीब 5-6 बार भेजे 6 डिजिट वाला नंबर हासिल किया। उन्होंने फिर से 6 डिजिट वाला नंबर फोन करने वाले को बता दिया, जबकि शाम करीब पाैने 7 बजे एक बार फिर से उनके फोन पर फोन आया और उन्हें 6 डिजिट का नंबर बताने के लिए कहा गया।

पीड़ित ने बैंक मैनेजर के साथ बात करके खाता व एटीएम फ्रीज करवा दिया। दूसरे दिन भी उन्हें फोन पर 6 डिजिट का नंबर मैसेज आया था बताने को कहा। जिसे उन्होंने नहीं बताया। वे बैंक गए तो पता चला कि नौसरबाजों ने खाते से 2 लाख 24 हजार 998 रुपए ट्रांसफर कर लिए हैं। पुलिस ने बताए गए फोन नंबर की जांच की तो वह बेस्ट बंगाल का निकला। जांच में नौसरबाज ने जाे फोन नंबर इस्तेमाल किया था, उसे एक्टिवेट करने के लिए दिया गया पता गलत निकला। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...