भाजपा बहरी है गूंगी नहीं / क्योंकि जनता की पुकार इसे सुनाई नहीं देती और प्रधानमंत्री व इनके मंत्री भाषण देते नहीं थकते

ट्रैक्टर को खींचकर डीसी दफ्तर लाते सुनील जाखड़, विधायक अंगद सिंह, दर्शन लाल मंगूपुर व अन्य। ट्रैक्टर को खींचकर डीसी दफ्तर लाते सुनील जाखड़, विधायक अंगद सिंह, दर्शन लाल मंगूपुर व अन्य।
X
ट्रैक्टर को खींचकर डीसी दफ्तर लाते सुनील जाखड़, विधायक अंगद सिंह, दर्शन लाल मंगूपुर व अन्य।ट्रैक्टर को खींचकर डीसी दफ्तर लाते सुनील जाखड़, विधायक अंगद सिंह, दर्शन लाल मंगूपुर व अन्य।

  • बढ़ी पेट्रोल कीमतों के विरोध में ट्रैक्टर को रस्सियों से बांध डीसी दफ्तर तक खींचकर लाए कांग्रेसी
  • ट्रैक्टर को बना दिया गड्‌ढा : भाजपा ने डीजल-पेट्रोल से 6 साल में कमाए 18 लाख करोड़

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

नवांशहर. केंद्र सरकार की ओर से डीजल व पेट्रोल की बढ़ाई जा रही कीमतों के खिलाफ कांग्रेस पार्टी ने सोमवार को नवांशहर में विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेसी चंडीगढ़ रोड स्थित आईटीआई से ट्रैक्टर को रस्सियों से बांधकर डीसी दफ्तर तक लाए तथा केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

इस मौके पर डीसी दफ्तर के बाहर पार्टी वर्करों को संबोधित करते हुए कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि मोदी सरकार साहूकारों की तथा साहूकारों के लिए बनाई सरकार है।

अंतरराष्ट्रीय मार्केट में लगातार तेल की कीमतें गिरती रहीं लेकिन सरकार एक्साइज बढ़ाती जा रही है। उन्होंने कहा कि वे ट्रैक्टर को रस्सियां से डाल खींचने का कोई ड्रामा या नाटक नहीं कर रहे बल्कि असलियत ये है कि आज सरकार ने ट्रैक्टरों को गड्‌ढे जैसा ही बना दिया है, क्योंकि इन्हें चलाने के लिए जरूरी डीजल इतना महंगा हो चुका है कि किसानों के बस की बात नहीं रही है।

केंद्र सरकार ने किसान निधि के नाम पर भी किसानों को जो 6 हजार रुपए में साल दिए हैं, उसे भी डीजल महंगा कर औसतन एक किसान से 7 हजार से अधिक रुपए वापस ले लिए हैं।

केंद्र सरकार बहरी है लेकिन गूंगी नहीं। बहरी इसलिए कि उसे जनता की पुकार सुनाई नहीं देती लेकिन गूंगी इसलिए नहीं क्योंकि प्रधानमंत्री व उनके मंत्री भाषण देते हुए थकते ही नहीं।

लॉकडाउन में तेल की कीमतें बढ़ा जले पर छिड़का नमक : अंगद/मंगूपुर

विधायक अंगद सिंह व विधायक दर्शन लाल मंगूपुर ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने जहां लॉकडाउन के दौरान लोगों की मदद का हर संभव प्रयास किया, वहीं केंद्र सरकार ने तेल की कीमतों में बढ़ोतरी कर लोगों के जले पर नमक छिड़कने का काम किया है।

मौके पर सीनियर कांग्रेस नेता राणा कुलदीप सिंह, जिला प्लानिंग बोर्ड चेयरमैन सतबीर सिंह पल्ली झिक्की, यूथ कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष वरिंदर ढिल्लों, तिरलोचन सिंह सूंढ, चमन सिंह भानमजारा, विपन तनेजा, हीरा खेपड़ मझौट, नरिंदर घई टिंकू, डॉ. कमलजीत लाल, सचिन दीवान, जोगिंदर छोकर, रजिंदर चोपड़ा, रामजी दास, जतिंदर कौर मूंगा, ललित शर्मा, रचना छाबड़ा, रोमी खोसला, राजेश गाबा, चौधरी हरबंस लाल, राकेश विक्की, रजिंदर शर्मा, प्रितपाल भारटा आदि उपस्थित थे। कांग्रेस नेताओं में इस संबंध में डिप्टी कमिश्नर डॉ. शीना अग्रवाल को ज्ञापन भी सौंपा।

खेती आर्डिनेंस लागू हुआ तो मक्की जैसा होगा गेहूं-धान का हाल

इस दौरान कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से जो खेती आर्डिनेंस लागू किया जा रहा है, उससे आम किसानों का हाल भी मक्की किसानों जैसा होगा।

मक्की का एमएसपी 1850 रुपए है, लेकिन वे बिक 400 से 600 रुपए में रही है। मोदी सरकार में मंत्री नितिन गडकरी एमएसपी को देश की अर्थ व्यवस्था के लिए खतरा बता रहे हैं।

लेकिन इसी एमएसपी व किसानों ने देश को बचा रखा है। उन्होंने भाजपा सरकार पर शब्दों से हमला करते हुए कहा कि भाषण देने में मोदी सरकार का कोई मुकाबला नहीं, लेकिन लोगों को राशन देने में ये सरकार निकम्मी साबित हुई है। इस दौरान कांग्रेस ने केंद्र के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना