नवांशहर / नाड़ को आग लगाने वालों के खिलाफ अदालतों में पेश किए जाएंगे चालान : डीसी

Challans to be presented in courts against those who set fire to the pulse: DC
X
Challans to be presented in courts against those who set fire to the pulse: DC

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

नवांशहर. जिले में गेहूं के नाड और फसली अवशेष को आग लगाने वालों के खिलाफ सख्त रवैया अपनाते हुए वातावरण मुआवजा राशि जमा न करवाने पर अदालत में चालान पेश किए जाने का फैसला लिया गया है। डीसी दफ्तर में डीसी विनय बुबलानी द्वारा आज कृषि आधिकारियों, पंचायत विभाग के आधिकारियों और पंजाब प्रदूषण रोकथाम बोर्ड के आधिकारियों की मीटिंग में उन्होंने स्पष्ट किया है कि वातावरण को नुकसान पहुंचाने वालों के खिलाफ नर्मी न बरती जाए और वातावरण मुआवजा राशि की वसूली यकीनी बनाई जाए। उन्होंने कहा कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल द्वारा निर्धारित वातावरण मुआवजा राशि न जमा करवाने पर माल रिकाॅर्ड में ‘रेड एंट्री’ डाली जाए और उसके बाद अदालत में चालान पेश कर दिया जाए।

प्रमुख कृषि अफसर सुरिन्दर सिंह ने बताया कि जिले में सैटेलाइट साईट्स की उपलब्धता के आधार पर 25 मामलों में 67,500 रुपए का ‘वातावरण मुआवज़ा’ पाया गया है, जबकि 39 साइटों की निरीक्षण रिपोर्ट अभी बकाया है। इसके अलावा जिले में जो साइटें अपने आप या शिकायत के आधार पर निरीक्षण किए हैं,  उनमें 20 मामलों में 50 हजार रुपए का ‘वातावरण मुआवज़ा’ जमा करवाने के नोटिस निकाले गए हैं जबकि 12 एफआईआर की गई हैं।

डीसी ने इस सबंधी लगाए नोडल अफसरों को बकाया साइटों की जल्द रिपोर्ट देने और ‘इनवायरनमेंट कंपनसेशन की जल्द वसूली यकीनी बनाने की हिदायत की। उन्होंने इसके साथ ही नोडल अफसरों को नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की हिदायतों की सख्ती के साथ पालना करवाने के लिए हिदायत की।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना