पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना को हलके में न लें:कोरोना से 1 दिन में पहली बार 5 मौतें, 9 नए पॉजिटिव 18 दिन में मिले 691 मरीज, औसतन 38 मरीज रोजाना

नवांशहर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना से मरने वाले मरीजों का आंकड़ा 103 पर पहुंचा

जिला नवांशहर में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामले सरकार व प्रशासन के लिए चिंता का विषय बन गए हैं। सितंबर 2020 में जब कोरोना अपने पीक पर था तब भी जिले में एक्टिव मामलों की संख्या 500 पार नहीं हुई थी, लेकिन अब 17 फरवरी को जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 518 तक पहुंच गई थी। वीरवार को जिले में एक साथ 5 कोरोना संक्रमितों की मौत और 27 मरीजों के ठीक होने से 18 फरवरी को ये आंकड़ा 499 पर आ गया। वीरवार को कोरोना के 5 मरीजों की मौत के अलावा कुल 9 नए पॉजिटिव मामले भी सामने आए हैं। सेहत विभाग की ओर से जारी सूचना के अनुसार मरने वालों में 3 लोग मुकंदपुर ब्लॉक से संबंधित हैं।

इनमें से दो पुरुष 50 व 70 वर्षीय और एक महिला (65) हैं। तीनों शुगर के मरीज थे और पटियाला के राजिंदरा अस्पताल में भर्ती थे। इसके अलावा ब्लॉक सड़ोया का 55 वर्षीय शुगर मरीज बुजुर्ग की भी पटियाला के राजिंदरा अस्पताल में मौत हो गई। राहों के 56 ‌वर्षीय बुजुर्ग की नवांशहर के निजी अस्पताल में मौत हो गई।

जब तक संक्रमण खत्म नहीं होता मास्क लगाना और 2 गज दूरी को न भूलें-

एक्टिव केस 499- सेहत विभाग की ओर से जारी सूचना के अनुसार वीरवार को रिपोर्ट हुए 9 मामलों के साथ जिले में कुल मामलों की संख्या 3341 पर पहुंच गई है। इस दौरान वीरवार को 9 नए मरीज ठीक भी हुए हैं और ठीक हुए मरीजों का आंकड़ा 2743 हो गया है। जिले में कुल एक्टिव मामले 499 हैं। कोरोना मरीजों की संख्या फरवरी में लगातार बढ़ रही है और एक फरवरी से 18 फरवरी तक 691 मरीज मिल चुके हैं। इस हिसाब से नवांशहर में हर रोज औसतन करीब 40 मरीज मिल रहे हैं। सेहत विभाग की ओर से वीरवार को जिले में 910 लोगों के सैंपल लिए गए।

अब तक 1,21,251 लोगों की सैंपलिंग की जा चुकी है। सिविल सर्जन डॉ. जीएस कपूर ने कहा कि कोरोना को लेकर अब और भी सावधानी बरतने की जरूरत है। उन्होंने लोगों से अपील की कि मास्क जरूर लगाएं। इसके अलावा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें तथा बार-बार 20 सेकेंड तक हाथ धोने को अपनी आदत में शामिल करें।

224 ने लगवाई वैक्सीन

पंजाब सरकार की ओर से स्वास्थ्य कर्मियों व फ्रंटलाइन वर्करों को कोरोना से बचाव के लिए लगाई जा रही कोविशील्ड टीकाकरण मुहिम के तहत वीरवार को कुल 224 डोज के टीके लगाए गए हैं। कोरोना महामारी के खिलाफ जंग के तहत स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले में अब तक 2489 को वैक्सीन के टीके लगाए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले में कुल 7 वैक्सीन सेंटर बनाए गए हैं।

इन सेंटरों पर ही जिनमें फ्रंटलाइन वर्कर (पुलिस अधिकारी/कर्मचारी) और हेल्थ केयर वर्कर शामिल हैं टीका लगवा रहे हैं। मंगलवार को कुल 224 लोगों ने वैक्सीन के टीके लगवाए गए हैं। बता दें कि 16 जनवरी को कोरोना वैक्सीन लगाने की शुरुआत की गई थी। इसके तहत जिले में कुल 4376 फ्रंट लाइन वर्करों ने रजिस्ट्रेशन करवाई है। जिले मे पहले चरण के तहत लोगों में कोरोना वैक्सीन को लेकर काफी संशय था मगर अब

धीरे धीरे लोगों में वैक्सीन के प्रति डर खत्म हो रहा है और लोग वैक्सीनेशन के लिए आगे आ रहे हैं। सिविल सर्जन ने डॉ. जीएस कपूर ने बताया कि कोरोना वैक्सीन के प्रति लोगों को ज्यादा से ज्यादा जागरूक किया जा रहा है। वैक्सीनेशन के दूसरे चरण के तहत पुलिस और रेवेन्यू विभाग के कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन का टीका लगाया जाना है। जल्द ही वैक्सीनेशन के निर्धारित लक्ष्य को पूरा कर लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...