पुलिस कार्रवाई:डेरे के संत का बेटा बता तैयार कराए नकली दस्तावेज, जांच के बाद मामला दर्ज

नवांशहर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोपी का असली नाम सुरिंदर, नकली पहचान पत्र में संत प्रेम दास लिखा

डेरा दूधाधारी फराला के दिवंगत संत का बेटा बन कर अपने दस्तावेज तैयार करने के आरोप में थाना बहराम पुलिस ने एक व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया है। एसएचओ राजीव कुमार ने बताया कि गांव गुजरपुर कलां के रहने वाले परसा राम ने पुलिस से एक व्यक्ति द्वारा खुद को डेरे के दिवंगत संत का बेटा बताकर गलत तथ्यों के आधार पर दस्तावेज तैयार करने के आरोप में शिकायत दी थी।

जांच अधिकारी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सुरिंदर कुमार का जन्म गांव बीणेवाल में पिता राम पाल के घर में हुआ था। वहीं पर ही उसकी प्रारंभिक पढ़ाई पूरी हुई है। डेरे के महंत प्रिथी दास द्वारा सुरिंदर कुमार को गोद लेने संबंधी या गद्दी का अगला मुखी होनेे संबंधी कोई भी बात सामने नहीं आई है। महंत प्रिथी दास की मौत के बाद उनकी अंतिम रस्में शिकायतकर्ता के बेटे चरनजीत द्वारा पूरी की गई हैं।

2016 में हुई थी डेरे के महंत की मौत

महंत की मौत साल 2016 को हुई थी। इस दौरान संप्रदाय के संतों ने 500 रुपए के अष्टाम पेपर पर लिख कर पगड़ी की रस्म की थी। इसी दौरान उसका नाम सुरिंदर कुमार से बदल कर प्रेम दास रख दिया गया था। मगर अष्टाम पेपर के अनुसार साधू-संप्रदाय द्वारा केवल सुरिंदर कुमार का नाम ही बदला गया था। जबकि उसने अपने नए पहचान पत्र और पासपोर्ट आदि में अपना नाम संत प्रेम दास पुत्र महंत प्रिथी दास रख लिया। जबकि उसके पिता का नाम राम पाल है। जबकि डेरे की करीब 47 कनाल से अधिक जमीन भी अभी संत प्रिथी दास के नाम पर ही है। जमीन के मामले में अभी केस अदालत में चल रहा है।

जांच में पाया गया कि शिकायतकर्ता और एक एनआरआई संत प्रिथी दास के चेले थे। संतों को दिखाई नहीं देता था, जिसके चलते चरनजीत ही महंतों के कामकाज निपटाता था, चरनजीत शिकायतकर्ता का बेटा है। जबकि सुरिंदर कुमार संतों का सेवादार था। संतों की मौत के बाद अंतिम रस्में भी चरनजीत द्वारा पूरी की गई थीं। जबकि सुरिंदर कुमार ने अपना नाम बदलने के बाद डेरे पर अपना हक जताना शुरू कर दिया। मगर जांच के दौरान कहीं भी सुरिंदर कुमार खुद को संतों द्वारा गोद लिए जाने के संबंध में कोई दस्तावेज पेश नहीं कर पाया। पुलिस ने जांच के आधार पर सुरिंदर कुमार के खिलाफ मामला दर्ज करके आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...