पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

हालात:लाॅकडाउन में ढील, कुत्तों की नसबंदी का काम फिर शुरू

नवांशहर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कुत्तों के कहर से मिलेगी राहत, मुबारकपुर में होगी नसबंदी
  • एक कुत्ते पर खर्च होंगे 1300 रुपए

शहर में आवारा कुत्तों व अन्य जानवरों की भरमार व लोगों को काटने की घटनाओं में आए दिन हो रही बढ़ोतरी पर नगर कौंसिल की ओर से शुरू की गई मुहिम दो महीने बाद फिर से शुरू हो गई है। मार्च महीने के दूसरे सप्ताह के बाद लगे लाॅकडाउन व कर्फ्यू की वजह से कुत्तों की नसबंदी करने वाली एनजीओ ने अपना काम रोक दिया था। अब इसे शुक्रवार को फिर से शुरू किया गया तथा न्यू टीचर कालोनी, टीचर कालोनी आदि मोहल्लों से आवारा कुत्तों को पकड़कर गांव मुबारकपुर ले जाना शुरू कर दिया गया है।

कौंसिल द्वारा कुत्तों की नसबंदी करने का काम शुरू कर दिया गया है और जिला स्तर पर कुत्तों की नसबंदी का काम गांव मुबारकपुर में भिंदी ऋषि पशु कल्याण समिति मध्य प्रदेश की ओर से स्थापित किए गए सेंटर में किया जाएगा। कौंसिल ईओ जगजीत सिंह जज एवं निवर्तमान प्रधान ललित मोहन पाठक ने बताया कि पूरे जिले में 6 लाख 80 हजार रुपए के टैंडर कुत्तों की नसबंदी करने के लिए किए गए हैं। प्रति कुत्ते पर करीब 1300 रुपए का खर्च सरकार वहन करेगी।

इस प्रोजेक्ट का उद्देश्य कुत्तों की संख्या को रोकना है न कि उन्हें जान से मारना। उन्होंने बताया कि कुत्तों की नसबंदी कर उन्हें तीन से सात दिन के लिए डाक्टर की आब्जर्वेशन में रखा जाता है, उसके पूर्ण स्वस्थ होने पर उन्हें फिर से उसी जगह पर छोड़ दिया जाता है, जहां से उसे उठाया गया था। नसबंदी हुए कुत्ते के कान पर एक विशेष मार्क लगा दिया जाता है। उन्होंने लोगों से अपील की कि घरों में रखे कुत्तों के गले में पट्‌टा डालकर या उस पट्‌टे पर विशेष टैग लगाकर रखें, ताकि उसकी पहचान हो सके। अगर ऐसा नहीं होता तो कौंसिल द्वारा उस कुत्ते का आॅपरेशन कर वापस छोड़ा जाता है तो इसकी कौंसिल जिम्मेदार नहीं होगी।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें