पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बकरीद की नमाज अदा कर दी मुबारकबाद:ईद की नमाज पर खुदा से मांगी कोरोना महामारी से निजात दिलाने की दुआ

नवांशहर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बंगा रोड पर ईद-उल-अजहा बकरीद की नमाज अदा कर दी मुबारकबाद

बंगा रोड पर स्थित मस्जिद कासिम में मुस्लिम भाईचारे द्वारा बुधवार को ईद-उल-अजहा (बकरीद) की नमाज अदा की गई। इंतजामिया कमेटी की देखरेख में सबसे पहले मुफ्ती गुलशाद ने कुर्बानी का महत्व बताया, उसके बाद इमाम मिन्हास द्वारा मुस्लिम समुदाय को नमाज अदा करवाई गई।

मुफ्ती गुलशाद ने बताया कि ईद-उल-अज़हा (बकरीद) सारे इस्लाम की सुन्नत की याद दिलाता है, जो अल्लाह के प्यारे नबी हजरत इब्राहिम ने हमारे लिए मक्का में आज से चार हजार साल पहले छोड़ दी है। उन्होंने कहा कि कुर्बानी का बहुत महत्व है तथा हमें दूसरों की भलाई के लिए कुर्बानी देनी चाहिए। सभी को देश प्रेम, इंसान की भलाई, तरक्की, भाईचारा, आपसी तालमेल बढ़ाने व देश में अमन शांति का वातावरण बना रहने की दुआ की।

इस दौरान इमाम मिन्हास ने वहां मौजूद सभी मुस्लिम भाइचारे से विश्व में पिछले दो साल से फैली कोरोना महामारी से निजात दिलाने के लिए दुआ करवाई। इस मौके पर पहुंचे नगर कौंसिल प्रधान सचिन दीवान ने मुस्लिम भाईचारे को बधाई दी तथा बताया कि उनकी कब्रस्तान की मांग बंगा रोड पर जल्द ही पूरी हो जाएगी। नगर कौंसिल की मीटिंग में कब्रिस्तान की मांग सबंधी प्रस्ताव पारित कर दिया गया है।

इस मौके पर इंजि खुर्शीद अहमद, डाॅ. नूरहसन, मो. आरिफ, मो. अर्श, मो. अनवर, मो. इकरार, मो. हनीफ भट्‌टी, मो. शाहिद, सरफराज आलम, हैप्पी भाटिया, अ‌बरार, अमीर, एमन जिया, शारिक, सलमान, इरशाद, अली, तनवीर, रेहान, सुलेमान, कबीर, हुसैन, हाजी दिलशाद, अशोक, इफ्तखार आदि हाजिर रहे। वहीं, ईद के मुबारक दिन पर सभी मुस्लिम समुदाय के लोगों के घरों में भी रौनक रही। इस दौरान सवेइया भी बनाई गईं। भाईचारे के घरों में ईद की बधाई देने वालों का तांता लगा रहा।

बारादरी मस्जिद में मुस्लिम भाईचारे ने अदा की ईद की नमाज
मोता सिंह नगर में स्थित बारादरी मस्जिद में मुफ्ती गुलजार द्वारा ईद उल जुहा (बकरीद) की मुस्लिम भाईचारे द्वारा नमाज अदा करवाई गई। उन्होंने मुस्लिम भाईचारे को कुर्बानी की महत्व बताते कहा कि हमें दूसरों की भलाई के लिए कुर्बानी देनी चाहिए। सभी को देश प्रेम, इंसान की भलाई, तरक्की, भाईचारा और आपसी तालमेल बढ़ाने तथा देश में अमन शांति का वातावरण बनाकर रखना चाहिए। मुस्लिम भाईचारे ने कोरोना महामारी से निजात के लिए दुआ भी की। नमाज अदा करने के बाद सभी ने एक दूसरे को गले मिल कर ईद की बधाई दी। मौके पर मोहम्मद शाहिद, मो. जुबेर, मोहम्मद अहमद, मो. सुहेब, दानिश, गुलजार खुर्शीद, सुहैब खुरैशी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...