पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रदर्शन:पे-कमीशन का विरोध, काले झंडे लेकर किया प्रदर्शन

नवांशहर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पंजाब स्टेट मिनिस्ट्रियल सर्विस यूनियन ने रोडवेज दफ्तर के सामने की सरकार विरुद्ध नारेबाजी

पंजाब स्टेट मिनिस्ट्रियल सर्विस यूनियन (पीएसएमएसयू) के कर्मचारियों ने छठे पे-कमीशन को गलत ठहराते हुए स्थानीय रोडवेज दफ्तर के सामने बस स्टैंड पर काली झंडियां लहराकर प्रदर्शन किया। यूनियन नेताओं ने कहा कि छठे वेतन आयोग में कर्मचारियों के भत्तों में कटौती की गई है जबकि वेतन बढ़ोतरी संबंधी कई तरह के रास्ते बताए गए हैं जोकि संगठन को मंजूर नहीं हैं।

इसके चलते प्रदेश कमेटी के फैसले के मुताबिक पीसीएमएसयू के आह्वान पर यूनियन ने संघर्ष किए लेकिन सरकार उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रही है। इस प्रदर्शन में डीसी दफ्तर, सिविल सर्जन दफ्तर, एसडीएम दफ्तर नवांशहर, बंगा, बलाचौर व तीनों तहसील दफ्तरों के कर्मचारी शामिल थे। इस दौरान यूनियन नेता गुरप्रीत, अमनदीप, संत राम, बलवंत राय, मोहिंदर सिंह, सुखप्रीत सिंह, जसविंदर सिंह, हरदीप सिंह, अमित कुमार, तरनदीप दुग्गल, गुरप्रीत सिंह, अजय कुमार, मनजिंदर कुमार, परमजीत, बलकार, राम कुमार आदि मौजूद रहे।

यूनियन की यह हैं मांगें
यूनियन की मांग है कि महंगाई भत्ते की किस्त बकाया सहित जारी किया जाए, पे-कमीशन की रिपोर्ट जनवरी 2016 से जारी करके कर्मियों को लाभ दिया जाए, पुरानी पेंशन स्कीम बहाल की जाए, 200 रुपए टैक्स वसूली बंद की जाए, कच्चे कर्मियों को पक्का किया जाए, सभी विभागों में पदों को भरा जाए, पुनर्गठन के नाम पर विभागों में पदों को समाप्त करना बंद किया जाए, सभी कर्मियों को केशलैस मेडिकल सुविधा दी जाए, सर्वोच्च न्यायालय के फैसले पर समान काम समान वेतन लागू किया जाए, बनती पदोन्नतियां, सीनियर सहायक से नायब तहसीलदार पदोन्नति कोटा 50 फीसदी किया जाए।

खबरें और भी हैं...