एजुकेशन / पीएसईबी 12वीं के पेपर अपने घर बैठे चेक करने में जुटे सब्जेक्ट टीचर, पॉलिसी बनाकर बकाया रहती परीक्षाओं के दिए जाएंगे एवरेज मार्क्स

X

  • मार्किंग शुरू, लॉकडाउन के चलते 12वीं कक्षा के बकाया पेपर करवाने पर असमंजस
  • ऑनलाइन अपलोड की जा रही मार्किंग लिस्ट, 3 इवेल्यूशन सेंटर में जमा होंगी आंसर शीट्स

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

नवांशहर. पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से 12वीं क्लासेज के पेपरों की मार्किंग शुरू कर दी गई है और उम्मीद जताई जा रही है कि लॉकडाउन की वजह से बकाया रहते पेपर नहीं होंगे, लेकिन इस पर विभाग का अंतिम फैसला आना बाकी है।

शिक्षा विभाग की ओर से इस संबंध में कोई पॉलिसी बनाकर उनकी बकाया रहती परीक्षाओं के एवरेज मार्क्स दिए जाएंगे।

फिलहाल कोई सरकुलर जारी नहीं किया, अलबत्ता पंजाब सरकार ने सीबीएसई 10वी-12वीं के साथ ही पीएसईबी के पेपर भी करवाने का फैसला किया था, लेकिन सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट के आदेशों पर बकाया एग्जाम कैंसिल कर दिए हैं जिससे पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड भी 12वीं परीक्षाएं कैंसिल करने पर विचार कर सकता है।

हालांकि शिक्षा विभाग 10वीं का रिजल्ट घोषित कर चुका है, जबकि पंजाबी के एक पेपर के बाद ही लॉकडाउन हो गया।

ऑनलाइन अपलोड की जा रही मार्किंग लिस्ट, 3 इवेल्यूशन सेंटर में जमा होंगी आंसर शीट्स

शिक्षा विभाग की ओर से प्रदेश भर में 12वीं पेपरों की पिछले सप्ताह से मार्किंग शुरू कर दी गई है। इसी कड़ी में नवांशहर जिले में 3 इवेल्यूशन सेंटर नवांशहर, बलाचौर व मुकंदपुर बनाए गए हैं जहां सुबह 9 बजे अलग-अलग करीब 48 सब्जेक्ट टीचर्स को पेपर के बंडल दिए गए।

नोडल अफसर बलदेव सिद्दू ने बताया कि पेपरों की मार्किंग हरेक अध्यापक घर में करेंगे, प्रत्येक अध्यापक को 300 पेपर का सीलबंद बंडल दिया गया जिसकी मार्किंग के लिए 10 दिन का समय दिया है।

अध्यापकों को ही अवार्ड लिस्ट शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर अपलोड करनी होगी और मार्किंग किए गए पेपर व अवार्ड लिस्ट का सीलबंद बंडल तैयार करके अपने निर्धारित इवेल्यूशन सेंटर में जमा करवाना होगा।

सरकारी सीसे स्कूल नवांशहर में 15, सरकारी सीसे स्कूल बलाचौर में 15 व सरकारी सीसे स्कूल मुकंदपुर में 18  टीचर्स की ड्यूटी लगाई गई है। 12वीं की अभी भी तीनों स्ट्रीम के एक-दो परीक्षा बकाया है।

इनमें कॉमन परीक्षा कंप्यूटर साइंस के अलावा गणित, इकोनॉमिक्स, पॉलिटिकल साइंस, ज्योग्राफी और हिस्ट्री शामिल हैं। कंप्यूटर साइंस का पेपर नहीं लेने का फैसला किया है जबकि विद्यार्थियों की छमाही परीक्षा और सीसीई के आधार पर मार्किंग की जाएगी। वहीं अन्य सब्जेक्ट के विद्यार्थियों की संख्या बेहद कम हैै।

मार्किंग शुरू मगर एग्जाम संबंधी गाइडलाइंस नहीं

^डीईओ सुशील कुमार ने बताया कि जिले के 3 इवेल्यूएशन सेंटर के अध्यापकों ने घर में मार्किंग शुरू कर दी है और 10 दिन के अंतराल में चेक करके अवार्ड लिस्ट वेब पोर्टल पर अपलोड करके बंडल अपने निर्धारित इवेल्यूएशन सेंटर में जमा करवाने होंगे।

एसेसमेंट तो पहले हो चुकी है जबकि प्रेक्टिकल एग्जाम भी शायद नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि जिले में पूरा काम सरकार व विभाग की हिदायतों के अनुसार किया जा रहा है, जिसके नोडल अधिकारी बलदेव सिहं को बनाया गया है।


आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना