मागों को लेकर प्रदर्शन:कौंसिल ने सिर्फ दो दिन भेजा पानी का टैंकर, लोग बोले- समस्या का तुरंत हल नहीं किया तो करेंगे कौंसिल कार्यालय का घेराव

नवांशहर17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मोहल्ला नानक नगर में पानी की खाली बाल्टियां रख कौंसिल के खिलाफ नारेबाजी करते मोहल्लावासी। - Dainik Bhaskar
मोहल्ला नानक नगर में पानी की खाली बाल्टियां रख कौंसिल के खिलाफ नारेबाजी करते मोहल्लावासी।
  • नई आबादी के नानक नगर में 20 दिनों से नहीं आई नलों में पानी की बूंद

मोहल्ला नानक नगर में पिछले 20 दिनों से लोगों के घरों के नलों में पानी की बूंद नहीं टपकी। हालांकि मौसम में काफी हद तक गर्मी कम हुई है, लेकिन पेयजल समस्या के कारण लोगों की दिनचर्या पूरी तरह से चरमरा गई है। लोगों द्वारा इस समस्या के समाधान के लिए कई बार कौंसिल के ध्यान में लाया गया है, लेकिन अभी तक कोई भी पुख्ता हल नहीं किया गया। जिस कारण समस्या ज्यों की त्यों बरकरार है।

समस्या के विरोध में गुस्साए लोगों ने वीरवार को कौंसिल प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए रोष-प्रदर्शन किया। मोहल्लावासियों रमन कुमार मान, नछत्तर पाल, नरेश कुमार, मुख्तयार, मंजू, बलविंदर, जस्सी, सुनील कुमार, बिमला देवी, मंजू रानी, बिंदर, सबजीत, प्रकाश कौर, सुरिंदर कौर, भजन कौर, अवतार, जगतार राम, बलजीत कौर आदि ने बताया कि मोहल्ले में पिछले 20-22 दिनों से पीने वाला पानी नहीं आ रहा। जिससे लोगों को पीने वाले पानी के साथ-साथ खाना बनाने व नहाने आदि में काफी दिक्कत आ रही है।

उन्होंने कौंसिल अधिकारियों से मांग की कि इस समस्या को पहल के आधार पर हल करवाकर लोगों को पीने वाला स्वच्छ पानी मुहैया करवाया जाए। उन्होंने कौंसिल अधिकारियों को चेतावनी दी कि यदि उनकी समस्या का जल्द हल न किया तो उन्हें नगर कौंसिल का घेराव करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

सबमर्सिबल लगे घरों में या फिर दूर इलाकों से लेकर आना पड़ रहा पानी

इस समस्या के संबंध में कई बार कौंसिल अधिकारियों व वार्ड पार्षद से भी संपर्क किया गया, लेकिन इसका कोई हल नहीं किया है। उनके बार-बार नगर कौंसिल से कहने के बाद उन्हें सिर्फ 2 दिन ही टैंकर दिया गया। जिसके बाद उन्हें कोई टैंकर भी मुहैया नहीं करवाया गया और उनके पानी की समस्या भी हल नहीं करवाई गई। वार्डवासियों ने बताया कि उन्हें या तो कहीं दूर के इलाकों से पानी लेकर आना पड़ता है और जिनके घरों में सबमर्सिबल लगे हुए हैं वहां से उन्हें पीने के लिए पानी मिलता है।

खबरें और भी हैं...