त्योहारों से पहले ऐसी लापरवाही अच्छी नहीं:वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने में रुचि नहीं दिखा रहे शहरी लोग, सेहत विभाग हुआ अलर्ट, शुरू की ट्रैकिंग

नवांशहर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वैक्सीनेशन कैंप में वैक्सीन लगवाते लाभार्थी। - Dainik Bhaskar
वैक्सीनेशन कैंप में वैक्सीन लगवाते लाभार्थी।
  • त्योहारों में भीड़ में जाने से बचें ताकि कोरोना की तीसरी लहर का खतरा पैदा न हो

त्योहारों के सीजन में जहां कोरोना की तीसरी लहर के पनपने का खतरा सर्वाधिक है। ऐसे में लोग जिन्होंने अपनी पहली वैक्सीन डोज ले ली है व समय पूरा होने के बावजूद दूसरी डोज नहीं ली उनके प्रति स्वास्थ्य विभाग खासा चिंतित है। हालात यह हैं कि दूसरी डोज न लेने वाले लोगों में सर्वाधिक संख्या शहरियों की है। जबकि विभाग की मानें तो ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीनेशन सही ढंग से चल रही है, मगर शहरों में लोग पहली व दूसरी डोज नहीं ले रहे।

हालांकि जिले में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 5 लाख 40 हजार से पार चला गया है। जिसके अनुसार कुल 18 प्लस आबादी में से करीब 96 फीसदी से अधिक लोगों द्वारा वैक्सीन की पहली डोज ले ली गई है। जबकि लगभग 39 प्रतिशत लोग दोनों डोज ले चुके हैं। लेकिन अब दूसरी डोज के लिए वैसी तेजी नहीं है, जैसी पहली डोज के लिए थी।

  • खुद आगे आएं... कुछ दिन और ऐसे ही गुजरे तो डोज मिस करने वालों का आंकड़ा बढ़ेगा
  • इन्होंने निभाई जिम्मेदारी... ग्रामीण क्षेत्रों में बिल्कुल सही ढंग से चल रही वैक्सीनेशन

सितंबर महीने में 2,84,373 डोज लगी अक्टूबर के 6 दिनों में 11 हजार ही लगी

अक्टूबर में पहले 6 दिनों में हुई वैक्सीनेशन की बात करें तो जिले में बीते 6 दिनों में सिर्फ 11 हजार वैक्सीन डोज लोगों द्वारा लगवाए गए हैं। जबकि बीते महीने की बात करें तो सितंबर में औसतन रोजाना करीब 9400 वैक्सीन डोज टीका लगाया गया है। मगर अक्टूबर में वैक्सीन लगवाने में लोगों की दिलचस्पी बहुत कम हो गई है।

हालांकि जिले में अधिकतर लोगों ने पहली डोज लगवा ली है, जबकि दूसरी डोज वैक्सीन लगवाने के लिए लोग केंद्रों पर नहीं जा रहे। जिसके चलते वैक्सीनेशन बढ़ नहीं पा रही है। जानकारी के अनुसार जिले में सितंबर में 1 से 30 सितंबर तक 2,84,373 डोज लगाई गई थी। बीते 6 दिनों में सिर्फ 11 हजार डोज दी गई हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार लोग अपनी वैक्सीन की दूसरी डोज नहीं ले रहे। जिस वजह से वैक्सीनेशन का ग्राफ नीचे आ रहा है।

पार्षदों के साथ बैठक करके लोगों को सेकेंड डोज के लिए प्रेरित करेंगे : सीएम

सिविल सर्जन डॉ. गुरिंदरबीर कौर का कहना है कि जिले में 18 साल से अधिक उम्र की कुल 95.93 प्रतिशत आबादी को वैक्सीन की पहली खुराक लगाई जा चुकी है। अब तक 54 लाख 40 हजार से अधिक वैक्सीन डोज लोगों को लगाई जा चुकी है। कुल 95.93 प्रतिशत व्यक्तियों ने पहली डोज और 38.67 प्रतिशत ने दूसरी डोज लगवाई है। हालांकि जिले में दूसरी डोज बहुत कम लगी है।

18 साल से अधिक उम्र के योग्य व्यक्तियों को रविवार अब केवल दूसरी डोज ही लगाई जाती है, जबकि सोमवार से शनिवार पहली और दूसरी दोनों खुराक लगेगी। ग्रामीण क्षेत्रों की बजाए शहरी क्षेत्रों में वैक्सीनेशन की रफ्तार काफी कम है। इसलिए जिला प्रशासन के जरिए जल्द ही विभाग द्वारा पार्षदों के साथ बैठक लोगों को सेकेंड डोज लगवाने के लिए प्रेरित किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...