पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना काल:लेबर की कमी से लटका डीएसी में पुलिस विंग का काम, डीसी रेजीडेंस की इमारत 95% कंप्लीट

नवांशहर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • विभाग को मिल चुके डीएसी निर्माण के लिए 25 करोड़, विभाग का लक्षय दीवाली तक सारा काम पूरा करने का
Advertisement
Advertisement

कोरोना काल में जहां लोगों से उनका रोजगार छिन गया है वहीं पर हालात यह हैं कि लेबर की भारी कमी आ गई है। लेबर की कमी के कारण डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेटिव कांप्लेक्स के बी-ब्लॉक (पुलिस विंग) का काम अधर में लटक गया है। हालात यह हैं कि विभाग को करीब 24 करोड़ 85 लाख रुपए की लागत राशि भी प्राप्त हो चुकी है जिसके चलते विभाग के पास अब फंडों की कमी नहीं बल्कि लेबर की कमी है।

जिसकी वजह से काम नहीं चल रहा। हालात यह हैं कि पुलिस विंग का काम 80 फीसदी तक कंप्लीट हो गया है। इमारत में कुछ मंजिलों में काम अधूरा पड़ा है। इसके अलावा डीसी रेजीडेंस का काम करीब 95 फीसदी तक पूरा हो गया है। इमारत में लकड़ी का काम चल रहा है जिसके पूरा होेने पर डीसी रेजीडेंस का काम पूरा हो जाएगा।

पुलिस विंग पूरा होने पर अपनी इमारत में खोल सकेगी पुलिस दफ्तर

डीएसी की कमी के कारण जहां पहले कई विभागों के दफ्तर अन्य विभागों की इमारतों व निजी इमारतों में चल रहे थे। डीएसी के ए-ब्लॉक यानि डीसी विंग का काम पूरा होने पर डीसी दफ्तर सहित अन्य कई दफ्तर ए-ब्लॉक में शिफ्ट हो गए हैं। मगर बी-ब्लॉक जो पुलिस विंग कहलाता है, का काम पूरा नहीं हो पाया। जबकि पुलिस प्रशासन की समस्या हल नहीं हो पाई। पुलिस विंग का काम पूरा न होने के कारण अभी भी कई पुलिस अधिकारियों को रैंक के अनुसार कम दफ्तर नहीं मिल पा रहे।

यही नहीं कई अधिकारियों के दफ्तर तो निजी इमारतों या फिर किन्हीं अन्य विभागों की इमारतों में चल रहे हैं। जबकि विभागों को सरकार की तरफ से कहा गया है कि निजी इमारतों में चल रहे दफ्तरों को किराया नहीं दिया जाएगा। जिसके चलते जैसे-तैसे करके पुलिस प्रशासन द्वारा निजी इमारतों में दफ्तर चलाए जा रहे हैं। मगर पुलिस विभाग को पुलिस विंग की जरूरत है, जिसके लिए लोक निर्माण विभाग लेबर व कारीगरों की कमी से जूझ रहा है।

कोरोना में पैदा हुई लेबर की कमी

एक्सईएन जसवीर सिंह जस्सी ने बताया कि इमारत निर्माण के लिए करीब 25 करोड़ रुपए की लागत राशि विभाग को मिल चुकी है। कोरोना की वजह से लगे लॉकडाउन के कारण काम बंद रहे, जिसके चलते लेबर का काम करने वाले व निर्माण कार्यों से संबंधित कारीगर जो बाहरी राज्यों से संबंधित थे, वे अपने राज्यों को लौट गए हैं। लॉकडाउन खुला तो काम शुरू करवाया गया जिसमें सबसे बड़ी समस्या लेबर व कारीगरों की आई। जो लेबर उपलब्ध है उनके जरिए यहां डीसी रेजीडेंस का काम पूरा करवाया जा रहा है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement