पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दौरा:एक्सईएन बोले- स्थिति नियंत्रण में, दरिया के पानी का बहाव बांध की तरफ से मोड़ने के लिए उठाए जा रहे हैं पुख्ता कदम

नवांशहर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धुस्सी बांध का जायजा लेते हुए एक्सईएन वीके गर्ग व अन्य। - Dainik Bhaskar
धुस्सी बांध का जायजा लेते हुए एक्सईएन वीके गर्ग व अन्य।
  • धुस्सी बांध पर बढ़ते खतरे के मद्देनजर ड्रेनेज विभाग के अधिकारियों ने किया दरिया क्षेत्र का दौरा

बरसात के मौसम के दौरान दरिया सतलुज में जल स्तर जहां बढ़ जाता है वहीं बीते सालों से पानी का बहाव दरिया के बीचोबीच होने की बजाए बांध की तरफ होने लगा है। जिसके चलते भूमि कटाव होने से पानी धुस्सी बांध के बहुत करीब पहुंच जाता है। ऐसे में पानी के तेज बहाव या कहें कि सीधी टक्कर से बांध को नुकसान भी उठाना पड़ सकता है।

जिसके चलते बांध क्षेत्र में पानी से कोई नुकसान न हुआ हो या आशंकित नुकसान की संभावनाओं के मद्देनजर ड्रेनेज विभाग के एक्सईएन रोपड़ वीके गर्ग की ओर से टीम सहित धुस्सी बांध का दौरा किया गया।

इस दौरान अधिकारियों से जहां उन्होंने पहले चल रहे मरम्मत कार्यों की जानकारियां हासिल की, वहीं दरिया के बुर्ज टैहल दास व हुसैनपुर-हादीपुर कांप्लेक्स में पानी का बहाव बांध की तरफ आने से रोकने के लिए जल्द उचित कदम उठाने के निर्देश भी दिए।

जबकि उन्होंने स्थानीय लोगों से दरिया के पानी के रुख के बांध की तरफ बदलने पर तुरंत जिला कंट्रोल रूम या अधिकारियों के ध्यान में लाने की अपील की ताकि हालातों पर समय रहते काबू पाया जा सके। यहां बांध की स्थिति के बारे में जानकारी देते हुए एक्सईएन वीके गर्ग ने बताया कि हालात काबू में हैं।

कहीं भी दरिया का पानी बांध के इतने करीब नहीं पहुंचा कि बांध को इससे खतरा हो। हालांकि हुसैनपुर-हादीपुर के अलावा बुर्ज टैहल दास कांप्लेक्स ऐसेक्षेत्र हैं जहां बीते साल से ही दरिया का बहाव बांध की तरफ हो गया है।

जिसके चलते कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जहां पर तुरंत प्रभाव से पानी के बहाव को या कहें पानी के रुख को बांध की तरफ से दरिया में बदलने की जरूरत है। जिसके चलते इस संबंध में विभाग के उच्च अधिकारियों को अवगत करवा दिया गया है।

जबकि बांध की मजबूती के संबंध में जल्द ही काम शुरू करवाया जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील की कि दरिया या बांध के संबंध में वे किसी भी बात को लेकर पैनिक न हों। विभाग की ओर से बांध की मजबूती के लिए उचित कदम उठाए जा रहे हैं। इस दौरान उनके साथ विभाग के जेई अंकुर धीमान व ग्रामीण मौजूद रहे।

पानी का बहाव बदलने पर बांध को खतरा

बीते कुछ सालों से दरिया सतलुज में बहते पानी का बहाव दरिया के बीचोबीच से एकदम से जिला एसबीएस नगर की तरफ से बांध की तरफ हो गया है। हालांकि पानी अधिक हो तो भूमि कटाव नहीं होता। मगर जब पानी की मात्रा कम होती है तो बहाव में गति आ जाती है। ऐसे में पानी के तेज बहाव से भूमि कटाव शुरू हो जाता है।

जिन किसानों की जमीन बांध के भीतर पड़ती है उनकी फसल न केवल तबाह हो जाती है बल्कि फसल के साथ साथ मिट्‌टी भी दरिया का पानी बहाकर ले जाता है। ऐसा होने पर पानी का बहाव तेजी से बढ़ता है व बांध के करीब से गुजरने लगता है। जिसके चलते बांध को भी इससे खतरा पैदा हो जाता है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

    और पढ़ें