पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

धर्मवीर केस:सीमेंट व्यापारी की जमानत पर 10 को सुनवाई,पुलिस काे एक हफ्ते बाद भी नहीं मिला फोन

जालंधर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गौशाला के संचालक धर्मवीर बख्शी लाइव सुसाइड केस में आरोपी बनाए गए लांबड़ा के सीमेंट व्यापारी श्रीराम मोहन ने एडिशन सेशन जज ललित कुमार सिंगला की कोर्ट में सोमवार को एंटीसिपेट्री बेल लगाई। सुनवाई 10 सिंतबर को होगी। धर्मवीर के बेटे ने एक हफ्ते बाद भी पुलिस काे पिता का मोबाइल नहीं दिया है। दूसरी ओर केस में जांच के दायरे में आए कांग्रेस विधायक सुरिंदर चौधरी और सीआईए स्टाफ के इंचार्ज पुष्प बाली की

भूमिका की जांच गहराई से की जा रही है। दोनों की कॉल डिटेल और टावर लोकेशन खंगाली जा रही है। बता दें कि 30 अगस्त की दोपहर सोशल मीडिया पर धर्मवीर बख्शी उर्फ धम्मा का वीडियो सामने आया था। इसमें धर्मवीर ने कहा था कि उसे विधायक सुरिंदर चौधरी, सीआईए इंचार्ज पुष्प बाली, श्रीराम मोहन सीमेंट स्टोर वाले, गौतम मोहन और संजीव काला तंग करते हैं। गौशाला खाली करवाने के लिए उसे 10-12 साल से तंग किया जा रहा है। धम्मा की 31 अगस्त की मौत हो गई थी। पुलिस ने विधायक को छोड़ अन्य सभी पर आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज किया था। विधायक पर भी केस दर्ज करने की मांग है।

खबरें और भी हैं...