शीतलहर:दो दिन में 13 एमएम बारिश आज दिनभर चलेगी शीतलहर, दिन-रात के तापमान में 30 का अंतर

जालंधर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • जालंधर में सुबह 6 बजे बूंदाबांदी शुरू हुई, लेकिन आठ बजे बारिश तेज हो गई

जिले में बुधवार को दिनभर बारिश हुई। चार और पांच जनवरी की बारिश को मिलाकर 13 एमएम पानी बरसा है। साल 2018 को जनवरी में इसी तरह 2 दिन लगातार बूंदाबांदी से 11 एमएम पानी गिरा था। मौसम विभाग की अनुसार जालंधर में अभी 2 दिन शीतलहर जारी रहेगी और बूंदाबांदी के आसार हैं। जालंधर में सुबह 6 बजे बूंदाबांदी शुरू हुई, लेकिन आठ बजे बारिश तेज हो गई। बारिश के बाद तापमान गिरा है।

मंगलवार को 18 तो बुधवार को तापमान 14 डिग्री रहा, जबकि रात में पारा 11 डिग्री पर आ गया। दिन और रात के तापमान में 3 डिग्री का अंतर है। चंडीगढ़ मौसम केंद्र के अनुसार अभी जालंधर में घने बादल छाए हुए हैं और इनकी मात्रा 95% है। इस कारण अभी यह 2 दिन अपना असर दिखाएंगे। दूसरी तरफ सर्दी बढ़ने से जालंधर की बिजली खपत भी प्रतिदिन 4000 मेगावाट तक पहुंच गई है। इसका मुख्य कारण हीटर और गीजर का इस्तेमाल है। जालंधर में सुबह घना कोहरा रहा है, जिस कारण हाईवे पर वाहन रेंगकर चलते रहे। उधर, बारिश के कारण आलू और फूलों की खेती करने वालों की चिंताएं बढ़ गई हैं।

हवाएं चलने से गला खराब होने की ज्यादा आशंका

बारिश ने सूखी खांसी से राहत दिलाई है, लेकिन हवा के कारण गले में खराश और खराबी का खतरा बन गया है। आने वाले दिनों में सर्दी बढ़ी तो छाती भारी होने की शिकायत भी हो सकती है। इससे बचाव के लिए गर्म पानी का सेवन करें और बुखार या अन्य शारीरिक समस्या होने पर स्पेशलिस्ट डॉक्टर के पास जरूर जाएं। बच्चों-बुजुर्गों को गर्म कपड़े पहनाएं। पैर और सिर ढककर रखें। दोपहिया वाहन पर बच्चों को ले जाने से परहेज करें।
-डॉ. कश्मीरी लाल, मेडिकल स्पेशलिस्ट

खबरें और भी हैं...