पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोविड-19 से थोड़ी राहत:ब्लैक फंगस से 2 की मौत, 8 नए केस कोरोना मरीज 50 दिन बाद 200 से कम आए

जालंधर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सिविल अस्पताल के वैक्सीनेशन सेंटर में रविवार को टीका लगवाने बहुत कम लोग पहुंचे। - Dainik Bhaskar
सिविल अस्पताल के वैक्सीनेशन सेंटर में रविवार को टीका लगवाने बहुत कम लोग पहुंचे।
  • 24 घंटे में 502 लोग स्वस्थ हुए, 195 नए केस अस्पतालों में भर्ती हैं 487 कोरोना मरीज

काेराेना के प्रकोप से आंशिक राहत के बीच ब्लैक फंगस ने सेहत विभाग और जिला प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है। रविवार को ब्लैक फंगस से दो मरीजों की मौत हो गई और 8 नए मरीज मिले हैं। अब जिले में ब्लैक फंगस के मरीजाें की संख्या बढ़कर 39 हाे गई है। अब तक इस बीमारी से 9 लोगों की जान जा चुकी है। दूसरी ओर कोरोना के मोर्चे पर कुछ राहत की खबरें आने लगी हैं। 11 मार्च के बाद पहली बार संक्रमिताें का आंकड़ा 200 के नीचे रहा है।

रविवार काे जिले में 195 काेराेना पॉजिटिव मिले जबकि 4 मरीजों की मौत हो गई। विभागीय सूत्रों के अनुसार अप्रैल लास्ट और मई के पहले हफ्ते तक एक मरीज से इन्फेक्शन की ग्राेथ रेट 8 से 10 फीसदी के बीच थी। इस सप्ताह यह दर घटकर औसतन 0.8 फीसदी तक रह गई है। बेहतर देखरेख के चलते मरीजों की सेहत में तेजी से सुधार हाे रहा है। इनका रिकवरी रेट करीब 95 फीसदी तक है। बीमारी से जान गंवाने वालों का प्रतिशत कम हो रहा है।

संक्रमण घटा पर सतर्कता बेहद जरूरी

अप्रैल तक संक्रमित मरीज के संपर्क में आने वाले 25 से 30 लाेगाें के सैंपल लिए जाते थे और कई बार इनमें से 10 लोगों के सैंपल पॉजिटिव आ रहे थे। अब इसमें कमी आई है। असिस्टेंट हेल्थ अफसर डाॅ. टीपी सिंह ने कहा कि सरकारी, गैर सरकारी अस्पतालाें में मरीज जल्दी ठीक हाे रहे हैं। कोरोना से माैत का रेशो तीन प्रतिशत के आसपास है। गाइडलाइंस का पालन करना बेहद जरूरी है।

आने वाले दिनों में बढ़ सकता है छूट का दायरा

जिला प्रशासन ने संक्रमण की चेन ताेड़ने के लिए शनिवार और रविवार काे लॉकडाउन लगाया गया है। अगर ऐसे ही संक्रमण की दर घटती रही ताे आने वाले दिनाें में आम लोगों के साथ-साथ व्यापारियाें काे और ज्यादा छूट मिल सकती है।

चारों मृतकों को कोरोना के अलावा भी थीं बीमारियां

10 मार्च काे जिले में 138 और 11 मार्च काे 214 मरीज संक्रमित मरीज मिले थे और 6 व 4 मरीजाें की माैत हुई थी। रविवार काे जिले में 195 संक्रमित मिले और 4 मरीजाें की इलाज के दाैरान माैत हाे गई। मरने वालाें में तीन पुरुष और एक महिला है। इनकी उम्र 60 साल से लेकर 72 साल तक के बीच में है। कोरोना के अलावा भी इन्हें कई बीमारियां थीं।

पहले दिन एक घंटे में ही को-वैक्सीन के 1000 टीके हुए बुक

शहर में रविवार काे टीका प्राेजेक्ट की वेबसाइट खुलने के एक घंटे में ही सभी 1000 स्लाॅट बुक हाे गए। जिला प्रशासन ने लाेगाें की रुचि देखते हुए सोमवार से इसमें 5000 अाैर नई डोज का स्लॉट जोड़ने का फैसला किया है। को-वैक्सीन की बढ़ी डोज को जिला राहत सोसायटी द्वारा खरीदा जाएगा।

इस बाबत डीसी घनश्याम थोरी ने बताया कि पायलट प्रोजेक्ट के तहत कोई व्यक्ति जिसकी आयु 18 वर्ष से अधिक है, ऑनलाइन लिंक www.citywoofer.com/event/vaccination-drive पर 500 रुपए और अन्य टैक्स 43 रुपए के सही मूल्य पर बुक कर सकता है। प्रोजेक्ट के तहत वैक्सीन एचएमवी, केएमवी और लायलपुर खालसा काॅलेज में सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक लगाई जाएगी। आधार कार्ड, कन्फर्म बुकिंग स्लिप और अन्य दस्तावेज साथ लाना जरूरी है। एक बार हुई रजिस्ट्रेशन बाद में बदली नहीं जा सकेगी।

खबरें और भी हैं...