पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • 4 Arrested For Selling Stolen Vehicles By Changing Number Plate And Chassis Number 7 Tractors 1 Trolley And 3 Bikes Recovered

चोर गिरोह का पर्दाफाश:नंबर प्लेट और चेसी नंबर बदलकर चोरी के वाहन बेचने वाले 4 गिरफ्तार, 7 ट्रैक्टर, 1 ट्राली और 3 बाइक बरामद

जालंधर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी से बरामद ट्रैक्टर, 1 ट्राली और 3 बाइक बरामद। - Dainik Bhaskar
आरोपी से बरामद ट्रैक्टर, 1 ट्राली और 3 बाइक बरामद।

ट्रैक्टर ट्राॅली और बाइक चोरी करने वाले गिरोह के 4 सदस्यों को गिरफ्तार करके थाना-4 की पुलिस ने 7 ट्रैक्टर, 1 ट्राॅली और 3 बाइक बरामद की हैं। मलसियां के रहने वाले छिंदरपाल उर्फ सुरिंदर पाल, मोहाली गांव मुल्लापुर के संजीव कुमार, उत्तर प्रदेश संभल के गिन्नौर के रहने वाले सूरज और गिन्नौर के गांव समराई के रहने वाले राजपाल सिंह के खिलाफ पुलिस ने चोरी सहित विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

वहीं आरोपियों के साथी उत्तर प्रदेश के राजेश और मोहाली के रहने वाले रोहित की गिरफ्तारी अभी बाकी है।एसीपी सेंट्रल हरसिमरत सिंह छेत्रा ने बताया कि 13 जुलाई को एएसआई सुच्चा सिंह ने नकोदर चौक के पास नाकाबंदी की हुई थी। उन्हें सूचना मिली की छिंदरपाल और संजीव कुमार चोरी की सप्लेंडर बाइक (पीबी08 एवाई 4340) पर आ रहे हैं। दोनों को पकड़कर थाना लाया गया तो आरोपी कोई सबूत नहीं पेश कर पाए। पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश करके 4 दिन का रिमांड हासिल किया। पूछताछ में सूरज और राजपाल का नाम सामने आया।

फिर एएसआई सुच्चा सिंह, एएसआई सुरिंदर पाल, सिपाही विक्रम सिंह व मनजीत सिंह को रेड के लिए यूपी संभल भेजा। वहां से सूरज और राजपाल को गिन्नौर से गिरफ्तार किया। उनसे चोरी के 6 ट्रैक्टर स्वराज और एक ट्रैक्टर सोनालिका, एक ट्राॅली, तीन बाइक बरामद हुए। पूछताछ में आरोपियों ने माना कि रोहित निवासी सैनी माजरा मोहाली और यूपी संभल के रहने वाले राजेश भी उनके साथी हैं।

आरोपियों की उम्र 21 से 40 साल
1. छिंदरपाल :
उम्र 40 साल और मूल रूप से मलसियां निवासी है। पहले ड्राइवर था और 2005 में कपूरथला के कोतवाली थाना में एनडीपीएस का पर्चा दर्ज हुआ। उसके बाद भगोड़ा हो गया। जब पकड़ा तो लुधियाना जेल में संजीव से उसकी मुलाकात हुई। जेल से आने पर उनकी मुलाकात यूपी के चोरों से करवाई।
2. संजीव : उम्र 35 साल और मूल रूप से मोहाली का रहने वाला है। जालंधर में शहीद बाबू लाभ सिंह नगर में किराये के मकान में रहता था। पहले इलेक्ट्रिशियन था, मगर 2020 में थाना-8 में चोरी का केस दर्ज हुआ। इसके बाद उसकी मुलाकात छिंदरपाल से हुई थी।
3. सूरज : उम्र 26 साल और यूपी का रहने वाला है। पहले मजदूरी करता था और इसी दौरान उसने चोरी की। मोहाली में उसके खिलाफ चोरी का मामला दर्ज किया गया। जेल से आकर पंजाबी बाग के पास छोले-भटूरे की रेहड़ी लगानी शुरू की। तब संजीव से मुलाकात हुई। उसी ने छिंदरपाल व बाकी से मिलवाया।
4. राजपाल सिंह : उम्र 21 साल और खेतीबाड़ी करता था। यूपी के गांव में ही सूरज के साथ रहता था। इसके चलते सूरज ने रोहित और संजीव की मुलाकात करवाई। वे दोनों ट्रैक्टर चोरी करके बेच देते थे। राजेश कुमार और राजपाल इनकी जाली नंबर प्लेट बनाने, चेसी और आरसी नंबर बदलने का काम करते थे। हर चोरी में सभी अपनी बराबर का योगदान देते थे।

खबरें और भी हैं...