• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • 4 Months Ago The Police Left In Civil, The Staff Wrote To The DC, No Management, How Will The Pain Of The Elderly Go Away?

कोई पूछने वाला नहीं:4 माह पहले पुलिस सिविल में छोड़ गई, स्टाफ ने डीसी को लिखा, प्रबंध नहीं, बुजुर्ग का दर्द कैसे मिटेगा?

जालंधर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सारी जानकारी भी भेजी है, लेकिन अब तक कोई कदम नहीं उठाया गया

बेटों के बाद बेटियों की लोहड़ी का चलन शुरू हुआ, लेकिन कई बेसहारा बुजुर्गों को कोई पूछने वाला नहीं है। ऐसे में जरूरत बुजुर्गों की लोहड़ी की बन गई है। ऐसी ही एक बुजुर्ग महिला 4 महीने से सिविल अस्पताल में बेसहारा पड़ी हैं। उनकी जिंदगी एक वार्ड से दूसरे वार्ड तक ही सिमट कर रह गई है। बुजुर्ग की बाजू टूटी हुई है और पुलिस कर्मचारी चार माह पहले अस्पताल में छोड़ गए थे, लेकिन उसके बाद कोई लेने नहीं आया।

रोज की तरह लोहड़ी वाला दिन भी महिला का रोते हुए निकला। कई माह से कपड़े नहीं बदले, जिस उनसे बदबू आती है तो कोई पास भी नहीं जाता। समाज सेवी संस्थाएं खाना दे जाती हैं तो दिन कट जाता है। अगले दिन खाना मिलेगा, यह भी पक्का नहीं है। इस बारे सीनियर मेडिकल अफसर डॉ. सतिंदर बजाज ने बताया कि बुजुर्ग महिला के बारे में डीसी को लिखकर दिया है, सारी जानकारी भी भेजी है, लेकिन अब तक कोई कदम नहीं उठाया गया।

खबरें और भी हैं...