पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • 6 People, Including Doctors, Died In Jalandhar; A Patient Died Within An Hour Of Bringing Him For Treatment, 437 Positive Cases Were Received.

कोरोना का कहर:जालंधर में डॉक्टर समेत 6 लोगों की मौत; एक मरीज ने इलाज के लिए लाने के एक घंटे के भीतर ही दम तोड़ा, 437 पॉजिटिव केस आए

जालंधर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चीफ सेक्रेटरी विनी महाजन के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक में हिस्सा लेते DC घनश्याम थोरी व अन्य अफसर। - Dainik Bhaskar
चीफ सेक्रेटरी विनी महाजन के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक में हिस्सा लेते DC घनश्याम थोरी व अन्य अफसर।

जिले में कोरोना का कहर टूटने लगा है। शनिवार को नूरमहल के रहने वाले प्राइवेट डॉक्टर समेत 6 लोगों ने कोरोना से दम तोड़ दिया। इनमें एक मरीज तो ऐसा था, जिसे पॉजिटिव आने पर एक घंटे पहले ही इलाज के लिए अस्पताल लाया गया लेकिन उसकी मौत हो गई। जिले में अब तक 979 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। इसके अलावा शनिवार को 437 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें 407 जालंधर जिले के रहने वाले हैं जबकि 30 मरीज बाहरी जिलों से हैं। कोरोना को लेकर अप्रैल महीने में हालात बहुत ही चिंताजनक होते जा रहे हैं।

प्रशासन लोगों से अपील कर रहा है कि वो कोराेना से जुड़ी मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंस यानी 2 गज की दूरी रखने व बार-बार हाथ धोने या हैंड सैनिटाइजर के इस्तेमाल करने की सावधानी को जरूर अपनाएं।

जिले में एक दिन में 15 हजार को लगी कोविड वैक्सीन

कोरोना संक्रमण फैलते देख अब प्रशासन ने पॉजिटिव मरीजों की जिंदगी बचाने के लिए वैक्सीनेशन प्रक्रिया तेज कर दी है। गुरुवार व शुक्रवार को पहली बार रिकॉर्ड 15 हजार लोगों को वैक्सीन लगाई गई। शनिवार को चीफ सेक्रेटरी विनी महाजन से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक में DC घनश्याम थोरी ने कहा कि जिले में करीब 8 लाख लोगों के कोविड टेस्ट किए जा चुके हैं। इसके अलावा अब तक 1.80 लाख से ज्यादा लोगों को कोविड की वैक्सीन लगा दी गई है।

जिले में 7 माइक्रो व एक कंटेनमेंट जोन, शहर में हालात बिगड़े

जिले में अब कुल 7 माइक्रो कंटेनमेंट जोन व एक कंटेनमेंट जोन बनाए जा चुके हैं। शहर में 4 व ग्रामीण क्षेत्र में 3 माइक्रो कंटेनमेंट जोन हैं जबकि कंटेनमेंट जोन शहर में बनाया गया है। गंभीर हालत वाले मरीजों के लिए 157 वेंटीलेटर का इंतजाम है जबकि 136 एंबुलेंस भी काम कर रही हैं।

बिना मास्क से लेकर होम क्वारंटाइन व थूकने वालों पर करोड़ों का जुर्माना

DC घनश्याम थोरी ने बताया कि जिले में अब तक मास्क न पहनने वाले 95,619 लोगों के चालान काटकर 5.06 करोड़ रुपए का जुर्माना वसूला गया है। इसके अलावा होम क्वारंटाइन तोड़ने वाले 89 लोगों से 1.90 लाख, सोशल डिस्टेंस न रखने वालों के 289 चालान काट 5.80 लाख और सार्वजनिक जगह पर थूकने वाले 569 लोगों के चालान काट 1.32 लाख रुपए जुर्माना वसूला जा रहा है।

खबरें और भी हैं...