पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सूबे में संक्रमण का रिकॉर्ड टूटा:अमृतसर में पहली बार 742 केस लुधियाना के 2 क्षेत्रों में लॉकडाउन, 4949 केस, 62 मौतें

जालंधर/ लुधियाना5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कुल संक्रमित 2,98,655, अब तक 7929 ने दम तोड़ा, 3141 मरीज ठीक हुए। - Dainik Bhaskar
कुल संक्रमित 2,98,655, अब तक 7929 ने दम तोड़ा, 3141 मरीज ठीक हुए।
  • अस्पतालों में 34190 मरीज उपचाराधीन होने से सूबे की एक्टिव दर 11.7% हुई

अप्रैल माह में कोरोना के मामले बढ़ने के बावजूद अभी तक पंजाब में सिर्फ नाइट कर्फ्यू चल रहा था लेकिन अब लुधियाना के दो कंटेनमेंट जोन में 70 से ज्यादा संक्रमित मिलने के बाद दोनों इलाकों में लॉकडाउन लगा दिया गया है। डीसी वरिंदर शर्मा ने रविवार को 768 नए संक्रमित मिलने व 9 मरीजों की मौत के बाद दुगरी फेज-1 व फेज-2 में भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दी है।

उधर सूबे में पिछले 24 घंटे में 4949 नए संक्रमित मिले हैं जो 24 घंटे में मिले मामलों में अब तक का सर्वोच्च स्तर है। सूबे में कुल संक्रमितों की संख्या 298655 हो गई है। अमृतसर में जहां 24 घंटे में मिलने वाले मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा 742 रिकॉर्ड रहीं।

सबसे ज्यादा 11 मरीजों की मौत भी यहीं हुई। सूबे में रविवार को 62 मरीजों की मौत हुई है। कुल मृतक आंकड़ा 7929 हो गया है। वहीं विभिन्न अस्पतालों में 48 मरीज वेंटिलेटर पर जबकि कुल 34190 मरीज उपचाराधीन हैं। 3141 मरीजों को ठीक घोषित किए जाने के बाद सूबे में कुल ठीक मरीजों की संख्या 257946 हो गई है। सूबे की रिकवरी दर 86 फीसदी रही, जो राष्ट्रीय रिकवरी दर के बराबर है।
लुधियाना में 5 दिन में मां-बेटे की कोरोना से मौत, शादी की चल रही थीं तैयारियां

लुधियाना में शादी की तैयारियों में जुटी मां-बेटे की सिर्फ पांच दिनों के अंतराल में ही कोविड से मौत हो गई। साइकिल मार्केट अरोड़ा पैलेस लुधियाना के रहने वाले मोहम्मद सुलेमान (19) और उनकी मां कमरुनिसा (45) की मौत हो गई। मंझले बेटे मोहम्मद जुगनू ने बताया कि रविवार (11 अप्रैल) को दोनों बाजार गए थे। घर तीसरी मंजिल पर होने पर के कारण दोनों को ही सीढ़ियां चढ़ने और सांस लेने में परेशानी हुई।

दोनों के ही सीटी स्कैन, एक्सरे और खून की जांच भी करवाई थी। एक नहीं बल्कि 5-6 जगह से ताकि रिपोर्ट कहीं गलत न हो। लेकिन सभी जगह एक ही रिपोर्ट आई। हार कर सिविल अस्पताल में दोनों को इमरजेंसी में भर्ती करवाया। लेकिन सोमवार (12 अप्रैल) रात को मां की मौत हो गई। 17 अप्रैल की रात भाई की मौत हो गई। तीन महीने बाद उसकी शादी थी।
किस महीने में हुए कितने टेस्ट
माह कुल टेस्ट रोज टेस्ट

जनवरी 5,60,669 18086
फरवरी 5,19,674 30087
मार्च 9,32,706 30087
16 अप्रैल 5,85,890 360618

  • इन आंकड़ों के हिसाब से विभाग अप्रैल महीने में 50 हजार के आंकड़े को टच कर जाएगा।
  • सरकार व हेल्थ विभाग को अपनी वैक्सीनेशन ड्राइव में और तेजी लाने पर भी जोर देना होगा।

16 मार्च से 16 अप्रैल तक पॉजिटिव दर 44.60%
कोरोना फैलने की रफ्तार का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि 16 मार्च को सूबे की पॉजिटिव दर जो 13.72% थी, 16 अप्रैल तक बढ़कर 44.60% हो गई। वहीं टेस्टिंग दर में भी 20.10% बढ़ोतरी हुई। 10 लाख 90 हजार 889 टेस्ट में से 89 हजार 671 नए मामले सामने आए।

खबरें और भी हैं...