मौसम:80 एमएम बारिश; टेंपरेचर 21 डिग्री, सारा दिन बरसी राहत

जालंधर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जालंधर-अमृतसर हाईवे पर दोपहर 2 बजे हुई बारिश में जाते हुए लोग। - Dainik Bhaskar
जालंधर-अमृतसर हाईवे पर दोपहर 2 बजे हुई बारिश में जाते हुए लोग।

सिटी में साउण दी झड़ी के बीच मौसम लाजवाब रहा। सुबह 7 बजे से लेकर दोपहर 3 बजे तक रुक-रुक कर बारिश होने से दिन का टेंपरेचर 21 डिग्री रिकाॅर्ड किया गया, जोकि दो दिन पहले 37 डिग्री था। अभी 21 जुलाई को भी बादल छाएंगे व बूंदाबांदी हो सकती है। अभी 2-3 दिन गर्मी से राहत रहेगी।

खेती सेक्टर में ट्यूबवेल बंद होने से जिले में बिजली की लोड करीब 1000 मेगावाट कम हो गया है। इस तरह अब सिटी कट मुक्त रहेगी। मानसून में अगर आज की तरह 8 घंटे की लगातार बारिशें हो जाएं तो वाटर लेवल में इजाफा होता है। कुल मिलाकर बरसात में पहली भरपूर बौछारों ने कई दिन का सूखा दूर कर दिया है।

6 दिन एक्टिव रहेंगे बादल
पहले मंगलवार को तड़के 5 बजे के करीब बूंदाबांदी रही थी। मुख्य तौर पर बारिश ने सुबह 7 बजे जोर पकड़ा है। मौसम विभाग के अनुसार अभी अगले 6 दिन जालंधर में बादल एक्टिव रहेंगे। 26 जुलाई के बाद दोबारा तेज बारिशों के समय शुरू होगा। बीस जुलाई तक जालंधर में 211.3 मिलीमीटर पानी गिर चुका है, जोकि साधारण दिनों में 200.5 मिलीमीटर होता है।

इस बारिश के फायदे ही फायदे
1. जब भी झड़ी लगती है तो भूजल स्तर बढ़ता है।
2. बिजली कट से राहत मिलती है।
3. धान के खेतों को 2-3 दिन ट्यूबवेल से पानी देने की जरूरत नहीं।

खबरें और भी हैं...