पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

घर की छत पर हाई रिस्क:शहर में 9 इलाके ऐसे, जहां घरों के ऊपर से निकलती हैं 11, 66 केवी तारें; घरों के बीच लगे हुए हैं बड़े टावर

जालंधर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शहीद बाबू लाभ सिंह नगर में घर में लगा बिजली का खंभा। - Dainik Bhaskar
शहीद बाबू लाभ सिंह नगर में घर में लगा बिजली का खंभा।
  • तेज आंधी में चिंगारियां और बारिश से दीवारों में आ जाता है करंट, डर के साये में जी रहे इलाके के लोग

शहर में सस्ते दाम पर प्लॉट लेकर लोगों ने उन जगहों पर घर बना लिए हैं, जिनके ऊपर से 11 केवी और 66 केवी बिजली की तारें गुजरती हैं। घर के प्रांगण में बड़े-बड़े टावर आज भी लगे हैं। कई लोगों ने तोे घर के अंदर से ही तारों को निकालकर कमरे बना लिए हैं। अब घर की छतों से मौत की तारें निकलने से लोग हर पल डर के साये में जी रहे हैं। विधायक के पास जाकर तारें हटवाने की अपील कर रहे हैं जिस कारण कई जगह पर काम शुरू करवाया गया है। दैनिक भास्कर ने शहर के ऐसे 9 इलाकों से जानकारी हासिल की, जहां हाइटेंशन तारों से दीवारों में करंट आ जाता है व कई लोग जान गवां चुके हैं।

मिट्‌ठू बस्ती में 11 केवी तारें से लोगों ने कुंडी डाली हुई है। उनके नीचे ही बच्चे खेलते हैं, पतंग उड़ाते हैं। अभिभावकों का कहना हैं। तारों के कारण डर बना रहता है। बच्चों को समझाते हैं, लेकिन मानते नहीं। हाई टेंशन तारों से इलाके में 2 बच्चों व 1 महिला की मौत हो चुकी है।

गुलाब देवी रोड पर स्थित बाबू लाभ सिंह नगर, मान नगर और शाम नगर के लोगों ने कहा कि सबसे ज्यादा डर तब लगता है, जब आंधी और बारिश आती है। दीवारों में हलका करंट आ जाता है। पावरकॉम और विधायक से मांग कर चुके हैं कि इलाके से तारों को हटवाएं या घरों से बाहर करवा दें।

लोगों का कहना है- हर पल बच्चों का डर लगा रहता है, वो बिना बताए छत पर चले जाते हैं

इन इलाकों में सबसे खतरनाक हालात... बाबू लाभ सिंह नगर, मान सिंह नगर, शाम नगर, गुलाब देवी रोड, बस्ती मिट्‌ठू, भार्गव कैंप, बस्ती शेख, बस्ती दानिश मंदां और मकसूदां।

चीफ इंजीनियर बोले- कोई हादसा होता है तो पावरकॉम जिम्मेदार नहीं -चीफ इंजीनियर जैनिंदर दानिया ने बताया कि जिन लोगों के घरों के ऊपर से तारें निकलती हैं, उन्हें तब ही हटाया जा सकता है, जब विधायक अपने फंड से तारों को हटवाने के लिए पावरकॉम तक पहुंच करता है। काफी लोगों को नोटिस भी भेजे गए हैं, जिनके घरों के ऊपर से तारें निकलती हैं और जिनके घरों के बीच खंभे लगे हैं।

अगर कोई हादसा होता है तो पावरकॉम जिम्मेदार नहीं होता और न मुआवजा दिया जाता है। अगर कहीं पावरकॉम की लापरवाही के कारण हादसा होता है तो चीफ इलेक्ट्रिकल इंस्पेक्टर रिपोर्ट तैयार करता है और जांच के बाद ही मुआवजा दिया जाता है। लोग तारों के नीचे घर न बनाएं, क्योंकि इससे उनका ही नुकसान होता है। वहीं उन्होंने कहा कि विधायक सुशील रिंकू ने विधायक फंड से कई इलाकों से तारें हटवाई हैं। अब विधायक राजिंदर बेरी भी तारें हटवा रहे हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें