पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोविड के विस्फोट करने वाले आंकड़े:फर्जीवाड़ा के चलते 2 अस्पतालों की जांच में मिले 9 फर्जी मरीज, पहली बार 713 संक्रमित, 8 लोगों की मौत

जालंधर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नार्थ हलके में प्रीत नगर-सोढल रोड पर स्टॉर्म वाटर सीवरेज के पाइप डालने का काम होने के बाद अब सड़क बनाने का काम शुरू हो गया है। - Dainik Bhaskar
नार्थ हलके में प्रीत नगर-सोढल रोड पर स्टॉर्म वाटर सीवरेज के पाइप डालने का काम होने के बाद अब सड़क बनाने का काम शुरू हो गया है।
  • जालंधर में लेवल-2 और 3 के 920 में से 913 बेड फुल, निजी अस्पतालों में सिर्फ 7 बेड खाली
  • अस्पतालों में 52 फीसदी मरीज दिल्ली, हिमाचल और हरियाणा समेत अन्य जिलों के दाखिल

लगातार बढ़ रहे काेराेना मरीजाें काे इलाज के लिए बेड मुहैया कराने के मामले में जिला प्रशासन और हेल्थ विभाग विफल हाे रहा है। प्रशासन के मुताबिक 62 अस्पतालाें में लेवल-2 और 3 के 920 बेड उपलब्ध हैं, जिनमें से 913 फुल हो चुके हैं। सिर्फ प्राइवेट अस्पतालों में ही 7 बेड ही बचे हैं। मरीजों को बेड न मिलने पर प्रशासन ने रविवार को कमेटी बनाकर जांच की तो पता चला कि जालंधर में 52 फीसदी मरीज दिल्ली, हिमाचल, हरियाणा और अन्य जिलों से भर्ती हैं जबकि 48 फीसदी लोकल मरीजों को सुविधा मिल सकी है। जांच के दौरान एक बड़ा फर्जीवाड़ा भी सामने आया कि शहर के एक प्राइवेट अस्पताल से 6 और दूसरे से 3 डमी मरीज मिले, जिनका अस्पतालों की तरफ से कोई रिकाॅर्ड दर्ज नहीं किया गया था।

प्रशासन ने अस्पतालों से उक्त डमी मरीजों के बारे में जांच शुरू कर दी है। उधर, जिले में पहली बार 725 संक्रमित मिले, जिनमें से 12 बाहरी जिलों के हैं। जिले के आंकड़े में 713 को दर्ज किया गया है। इसके अलावा 8 मरीजों ने दम तोड़ दिया। पिछले रविवार को 648 संक्रमित मिले और 3 की मौत हुई थी। रविवार आए संक्रमितों में ज्यादातर की उम्र 51 साल से ज्यादा है। सेहत विभाग का कहना है कि जिन मरीजाें की माैत हुई है, वे सभी पहले से बीमार थे, हालत गंभीर हाेने पर उन्हें अस्पताल लाया गया।

नार्थ हलके में प्रीत नगर-सोढल रोड पर स्टॉर्म वाटर सीवरेज के पाइप डालने का काम होने के बाद अब सड़क बनाने का काम शुरू हो गया है, लेकिन रविवार को लॉकडाउन में विकास का क्रेडिट लेने के लिए कांग्रेस के नेताओं ने कोविड-19 की सारी हिदायतों की धज्जियां उड़ा दीं। रविवार सुबह पार्षद अवतार सिह, पार्षद दीपक शारदा, पार्षद सुशील कालिया उर्फ विक्की कालिया, पार्षद पति माइक खोसला ने समर्थकों के साथ नामधारी संत के हाथों रिबन कटवाकर सड़क बनाने के काम का उद्घाटन किया। आसपास से गुजरते लोग तमाशा देखते रहे और पक्षपाती रवैये के लिए पुलिस-प्रशासन को कोसते रहे।

परोपकारी लाेग प्रशासन की मदद करें

डीसी घनश्याम थोरी ने काेविड-19 से निपटने के लिए सिटी के अाम लाेगाें से मदद मांगी है। उन्होंने कहा कि डिस्ट्रिक्ट रेड क्रॉस सोसायटी ने कोविड-19 राहत कोष जिला रिलीफ फंड बनाया है। पराेपकारी लोग बैंक खाता संख्या 50100033127430, IFSC कोड HDFC 0001391, MICR कोड 1440000009, HDFC बैंक में ऑनलाइन माेड से योगदान कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि जिला राहत कोष में योगदान को आयकर अधिनियम से छूट दी गई है। दूसरी तरफ जिले में ऑक्सीजन सिलेंडरों की कमी दूर करन के लिए इंडस्ट्रियलिस्ट आगे आए हैं। उन्होंने 200 सिलेंडर जिला प्रशासन को भेजे हैं जबकि 800 सिलेंडरों का प्रबंध करने का टारगेट लिया है।

दिल्ली की तर्ज पर तो नहीं हो रहा डमी मरीजों का खेल

हाल ही में दिल्ली में सरकार से बचने के लिए एक अस्पताल की मैनेजमेंट बेड रिजर्व करने के लिए अपने ही कर्मचारी काे मरीज बताकर लेटा देती थी। बाद में जब काेई गंभीर मरीज भर्ती होने के लिए आता था, ताे उससे लाखाें रुपए लेकर बेड खाली कर उसे दे दिया जाता था। इसके लिए मरीज बनकर लेटने वाले कर्मचारी को सैलरी के अलावा 800 से 1000 रुपए जयादा दिए जाते थे। बाद में अस्पताल स्टाफ में इसकी चर्चा हाेने लगी ताे पूरे प्रकरण का खुलासा हो गया। जालंधर में रविवार को दो प्राइवेट अस्पतालों में 9 डमी मरीज मिले हैं, जिनका कोई रिकाॅर्ड नहीं है। जिला प्रशासन ने रविवार की सुबह बताया कि अस्पतालों में लेवल-2 और 3 के 425 मरीज जालंधर के हैं जबकि बाहरी जिलों के 276 और दूसरे राज्यों के 193 मरीज दाखिल हैं। इन विभिन्न अस्पतालाें में देर शाम तक 10 अाैर गंभीर मरीज भर्ती हुए। इस बारे डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी का कहना है कि बेडों की उपलब्धता काे बढ़ाने के लिए तेजी से प्रयास किए जा रहे हैं।

सरकारी अस्पताल में लगेगी दूसरी डाेज

काेविड-19 वैक्सीन का तीसरा चरण शुरू हाेने से पहले हेल्थ डिपार्टमेंट ने सभी प्राइवेट अस्पतालों से वहां रखी वैक्सीन मंगवा ली है। जिला टीकाकरण अधिकारी का कहना है कि 45 साल से अधिक आयु वाले जिन लाेगाें ने प्राइवेट अस्पताल में वैक्सीन की पहली डोज लगी है, उन्हें आने वाले दिनाें में सरकारी अस्पतालाें में दूसरी डाेज दी जाएगी। इसके लिए लाेगाें काे कोई चार्ज नहीं देना पड़ेगा। जिक्रयाेग हाे कि एक मई से 18 साल से अधिक आयु के युवाओं के लिए टीकाकरण शुरू हाेना था, मगर वैक्सीन की कम उपलब्धता के चलते इसमें देरी हाे रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

    और पढ़ें