किलर कोरोना:48 घंटे में 949 संक्रमित, 6 की मौत, 4 मरीज 24 घंटे में तोड़ गए दम; 3 को ही लगी थी वैक्सीन

जालंधर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डीसी कॉम्प्लेक्स के एंट्री गेट पर संदिग्ध मरीजों की जांच की गई। इस मौके एक व्यक्ति का सैंपल लेती हुईं डॉ. प्रियंका। - Dainik Bhaskar
डीसी कॉम्प्लेक्स के एंट्री गेट पर संदिग्ध मरीजों की जांच की गई। इस मौके एक व्यक्ति का सैंपल लेती हुईं डॉ. प्रियंका।
  • अब तक 75836 संक्रमित, 1541 की हो चुकी मौत
  • मृतकों में 32 से 72 साल के मरीज, दो को कोरोना के अलावा नहीं था कोई रोग

जिले में 48 घंटे में 949 मरीजों को संक्रमण की पुष्टि हुई है। बुधवार को 538 और वीरवार को 411 मरीजों की पुष्टि हुई। इसके साथ ही जिले में संक्रमितों की कुल संख्या 75836 पर पहुंच गई है। वहीं, बुधवार को 2 और वीरवार को 4 मरीजों की इलाज के दौरान मौत हो गई। सेहत विभाग की रिपोर्ट के अनुसार वीरवार तक जिले में 1541 मरीज कोरोना के कारण जान गंवा चुके हैं।

बुधवार को दम तोड़ने वाले मरीजों की उम्र 32 और 67 साल थी। वहीं वीरवार को दम तोड़ने वाले मरीजों में 51, 60, 70, 72 साल के मरीज थे। कुल 6 में से 3 का इलाज सरकारी और 3 का प्राइवेट अस्पताल में चल रहा था। दो मृतकों को कोरोना के अलावा कोई रोग नहीं था। जबकि 4 मरीजों की मौत अस्पताल में दाखिल करने के महज 24 घंटे में ही मौत हो गई। जिले में संक्रमितों की संख्या में जहां 949 मरीजों को पुष्टि हुई है, वहीं 1541 मरीज ठीक भी हुए हैं। बुधवार को कोरोना से 901 और वीरवार को 640 मरीज ठीक हुए हैं। वीरवार तक जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 3290 पर पहुंच गई है।

दम तोड़ने वाले सभी मरीज थे आईसीयू में दाखिल

केस-1 : 32 साल के व्यक्ति को कोरोना के अलावा कोई रोग नहीं था। अस्पताल में दाखिल करने के बाद दम तोड़ दिया। वैक्सीन नहीं लगी थी।
केस-2 : 51 साल की महिला को ब्लड प्रेशर और शुगर थी। संक्रमण की पुष्टि के एक दिन बाद दम तोड़ दिया। वैक्सीन की कोई डोज नहीं लगी थी।
केस-3 : 60 साल के बुजुर्ग को टीबी थी। अस्पताल में भर्ती होने के बाद 24 घंटे के अंदर ही मौत हो गई। उन्हें वैक्सीन नहीं लगी थी।
केस-4 : 67 साल के बुजुर्ग को ब्लड प्रेशर था। दो दिन अस्पताल में दाखिल रहे। वैक्सीन की दोनों डोज लगी थीं।
केस-5 : 70 साल के बुजुर्ग को शुगर, ब्लड प्रेशर था। अस्पताल में दाखिल होने के 7 दिन के अंदर दम तोड़ दिया। वैक्सीन की दोनों डोज लगी थीं।
केस-6 : 72 साल की महिला को कोरोना के अलावा कोई रोग नहीं था। एक दिन अस्पताल में रहीं। उन्हें वैक्सीन की दोनों डोज लगी थीं।

खबरें और भी हैं...