• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • A Good Step By An IAS Officer In Jalandhar, Covid Vaccine Given To Elderly Parents To Get Scared Out Of The Minds Of The Elderly, Two Doses Taken By Themselves

जालंधर में IAS अफसर का सराहनीय कदम:बुजुर्गों के मन से डर निकालने के लिए बुजुर्ग माता-पिता को लगाई कोविड वैक्सीन, खुद ले चुके दो डोज

जालंधर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिविल अस्पताल में माता-पिता को कोविड वैक्सीन लगवाते IAS अफसर ADC विशेष सारंगल। - Dainik Bhaskar
सिविल अस्पताल में माता-पिता को कोविड वैक्सीन लगवाते IAS अफसर ADC विशेष सारंगल।
  • कोविड वैक्सीन लेने को लेकर अभी भी लोगों हो रही झिझक
  • लोगों को अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील

कोविड वैक्सीन लगाने से झिझक रहे लोगों के मन से डर निकालने के लिए जालंधर में तैनात IAS अफसर विशेष सारंगल ने नेक पहल की है। रविवार को सरकारी अस्पताल स्थित वैक्सीनेशन सेंटर में उन्होंने अपने 67 साल के पिता जेआर सारंगल व 63 साल की मां संतोष कुमारी को कोविड वैक्सीन लगवाई। जालंधर में ADC (डेवलपमेंट) तैनात विशेष सारंगल खुद भी कोविड की दो डोज ले चुके हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि अपनी बारी के हिसाब से कोविड वैक्सीन लगवाएं ताकि कोरोना वायरस की महामारी से जंग जीत सकें।

माता-पिता को कोविड वैक्सीन लगवाने के बाद ADC विशेष सारंगल ने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सीन ही असरदार कदम है। उन्होंने कहा कि उनके माता-पिता पूरी तरह से स्वस्थ हैं। लोगों को भी किसी तरह की चिंता नहीं करनी चाहिए क्योंकि वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि तीसरे फेज में 60 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों व 45 साल से ज्यादा उम्र के उन लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है, जिन्हें कोई बीमारी हो। सरकारी अस्पताल में वैक्सीन पूरी तरह फ्री है जबकि प्राइवेट अस्पताल में सिर्फ 250 रुपए में वैक्सीन लगाई जा सकती है।

जालंधर में 28,790 लोग ले चुके वैक्सीन

जालंधर जिले में अभी तक 28,790 लोग कोविड की वैक्सीन लगवा चुके हैं। इनमें 14,572 हेल्थकेयर वर्कर, 10,674 फ्रंटलाइन वर्कर 3,068 सीनियर सिटीजन यानी 60 साल से ज्यादा उम्र वाले और 476 वो लोग हैं, जिनकी उम्र 45 से 59 साल के बीच है लेकिन उन्हें कोई बीमारी भी है। अभी तक जिले में कोविड वैक्सीन से जुड़ा कोई साइडइफेक्ट का केस सामने नहीं आया है।

खबरें और भी हैं...