केस दर्ज:अमेरिका की बजाय मैक्सिको भेजा, रुपये 47 लाख की ठगी, 2 एजेंट भाइयों पर केस

जालंधर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • दो युवकों के साथ हुई ठगी, दोनों को दिल्ली किया डिपोर्ट

अमेरिका भेजने के लिए सगे भाइयों ने दो युवकों से 47 लाख रुपए ठग लिए। उन्हें इक्वाडोर से पनामा के जंगलों के रास्ते मैक्सिको कैंप भेज दिया। वहां अफसरों ने पासपोर्ट की जांच की तो पता लगा कि वे अवैध तरीके से पहुंचे हैं। फिर उन्हें दिल्ली डिपोर्ट कर दिया गया। लौटकर उन्होंने एजेंटों से पैसे वापस मांगे तो आरोपी टालते रहे। जब उन्होंने पुलिस में शिकायत की तो आरोपियों ने राजीनामा कर लिया, लेकिन फिर दोबारा मुकर गए। इसके बाद पीड़ितों की ओर से दोबारा शिकायत करने पर लोहियां थाने की पुलिस ने ठगी के आरोपी भाइयों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

पहले राजनीनामा किया, फिर मुकरे- पहला मामला परजियां कलां के रहने वाला तलविंदर सिंह का है। उसके पिता नगिंदर सिंह गोपीपुर कपूरथला के रहने वाले रणजीत सिंह के जरिये ट्रेवल एजेंट भाइयों लखवीर सिंह और गुरप्रीत सिंह निवासी फतेहपुर भगवा से मिले। 24 लाख में सौदा तय हो गया। आरोपी 14.50 लाख रुपए लेकर उन्हें दिल्ली ले गए। एक होटल में ठहराने के बाद एक्वाडोर की फ्लाइट करवा दी। वहां से डोकरा के रास्ते पनामा के जंगलों से पैदल मैक्सिको कैंप तक ले गए। वहां पता चला कि लखवीर सिंह उसके घर से बकाया 9.50 लाख की रकम भी ले गया है।

वहां से उसे डिपोर्ट कर दिया गया। इसी तरह कपूरथला के गोपीपुर का रहने वाला सतनाम सिंह विदेश जाना चाहता था। इस बारे में उनकी लखवीर से बात हुई और फिर उसके घर जाकर पासपाेर्ट व 5 लाख रुपए दे दिए। इसके बाद 10 लाख रुपए और लिए। उसे भी दिल्ली से इक्वाडोर और वहां से पनामा के जंगलों के रास्ते मैक्सिको कैंप में पहुंचा दिया गया। इसी दौरान उसके घर से 8 लाख रुपए और ले लिए गए। मैक्सिको कैंप से उसे दिल्ली डिपोर्ट करवा दिया गया। पुलिस ने जांच के बाद दोनों ट्रेवल एजेंट भाइयों लखवीर और गुरप्रीत पर केस दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं...