कार्रवाई:एडवोकेट नजाकत, अशोक और रंजीत 3 दिन के लिए सस्पेंड, वकील भड़के, हंगामा

जालंधर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोर्ट परिसर में वकीलों के झगड़े पर बार कौंसिल की कार्रवाई

कोर्ट कांप्लेक्स में सोमवार दोपहर एडवोकेट परमजीत कश्यप और मोहम्मद नजाकत के बीच हुए झगड़े में जिला बार एसोसिएशन ने कड़ा नोटिस लिया है। बार के प्रधान गुरमेल सिंह लिद्दड़ ने कहा कि विवाद से जुड़े एडवोकेट मोहम्मद नजाकत, अशोक खन्ना और रंजीत अधिकारी को सस्पेंड किया गया है। तीनों से कारण बताओ नोटिस जारी कर शुक्रवार तक जबाव मांगा है। दूसरे पक्ष से जुड़े एडवोकेट परमजीत कश्यप और प्रमोद कश्यप बार के मेंबर नहीं है। कश्यप बंधुओं का बार कौंसिल ने तीन साल से लिए लाइसेंस रद किया हुआ है।

बार के फैसले पर एडवोकेट का एक वर्ग भड़क उठा। पूर्व प्रधान राज कुमार भल्ला, ओम प्रकाश, दर्शन सिंह दयाल, बीएस लक्की, संजीव बांसल और भारी संख्या में आए वकीलों ने बार के इस फैसला का विरोध जताया और कहा कि जल्द जरनल हाउस बुलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि बार पहले मामले की अच्छी तरह से जांच करती, फिर एक्शन लेती।

शुक्रवार को सस्पेंड वकीलों का पक्ष सुनेंगे : प्रेसिडेंट जीएस लिद्दड़
वकीलों ने कहा कि एडवोकेट अशोक खन्ना का क्या कसूर था कि कश्यप की बहन ने सरेआम कॉलर से पकड़ कर खींचातानी की। खन्ना सिर्फ नजाकत को ट्रीटमेंट के लिए सिविल अस्पताल ले गए थे। उधर, शाम 5 बजे तक सस्पेंशन के मामले को लेकर हंगामा होता रहा, मगर बार अपने फैसले पर अटल रही।

प्रेसवार्ता में प्रधान गुरमेल सिंह लिद्दड़ ने कहा कि दो वकीलों का पर्सनल विवाद था न कि वकीलों के दो पक्षों का। विवाद को लेकर आई वीडियो पर संज्ञान लेते हुए बार मेंबर एडवोकेट मोहम्मद नजाकत, अशोक खन्ना और रंजीत अधिकारी को सस्पेंड किया गया है। शुक्रवार को उनका पक्ष सुना जाएगा। प्रेसवार्ता में सेक्रेटरी संदीप संघा और उसकी टीम मौजूद थी।

एडवोकेट खन्ना से मारपीट मामले में कश्यप बंधु अरेस्ट, जमानत मिली
मास्टर तारा सिंह नगर में मोहन पैलेस के पास 13 जनवरी को 52 साल के एडवोकेट अशोक खन्ना से मारपीट कर जान से मारने की धमकी देने के मामले में मॉडल टाउन के रहने वाले एडवोकेट परमजीत कश्यप और उनके भाई प्रमोद कश्यप को गिरफ्तार कर लिया। दोनों को जमानत पर छोड़ दिया गया। थाना नई बारादरी के एसएचओ कमलजीत सिंह ने कहा कि परमजीत और प्रमोद के खिलाफ केस दर्ज था। एडवोकेट अशोक खन्ना ने आरोप लगाया था कि 13 जनवरी को चेंबर जाते समय कश्यप बंधु और महिला सुधा हमला कर चेन छीन ले गए थे। थाना नई बारादरी में इस बाबत आईपीसी की धारा 379 बी,341,323 व 506 के तहत केस दर्ज किया गया था।

खबरें और भी हैं...