पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • After Admitting Lehmber's Mistake, The House Was Added; Is There A Brother in law Between Husband And Wife? Hear The Question Again And Again And Say Useless Question, Close The Topic

महिला आयोग चेयरपर्सन मनीशा गुलाटी के तीखे तेवर:लैहंबर की गलती मानने के बाद घर जुड़ गया; पति-पत्नी के बीच साली काैन है? बार-बार सवाल सुन बोली - यूजलेस क्वेश्चन, टॉपिक बंद कीजिए

जालंधर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जालंधर में महिलाओं की शिकायत सुनतीं चेयरपर्सन मनीशा गुलाटी। - Dainik Bhaskar
जालंधर में महिलाओं की शिकायत सुनतीं चेयरपर्सन मनीशा गुलाटी।

गायब लैहंबर हुसैनपुरी का पत्नी-बच्चों से समझौते के बाद अब भी आरोप लगा रही साली को पंजाब महिला आयोग की चेयरपर्सन मनीशा गुलाटी ने मुंहतोड़ जवाब दिया। जालंधर पहुंची मनीशा गुलाटी ने कहा कि लैहंबर ने अपनी गलती मानी कि पत्नी पर हाथ उठाया था। भविष्य में उसने ऐसा न करने की बात लिखित में दी है। अब उनका परिवार जुड़ गया है तो साली झूठ बोल रही है। उसे दुख है कि लैहंबर का घर जुड़ कैसे गया। वह शिकायत नहीं करती और हाइप लेने के लिए मीडिया के पास जाती है। इसके बावजूद कुछ मीडिया कर्मी बार-बार लैहंबर का सवाल पूछते रहे तो उन्होंने बार-बार लैहंबर-लैहंबर कहते हुए कहा कि इस टॉपिक को बंद कीजिए। परिवार जुड़ चुका है और अब यह यूजलेस क्वेश्चन है।

प्रायोरिटी नहीं, सोशल मीडिया पर वीडियो देख पहले हल किया

चेयरपर्सन गुलाटी ने कहा कि उन्होंने लैहंबर का केस प्रायोरिटी पर नहीं बल्कि सोशल मीडिया पर वायरल होती झगड़े की वीडियो की वजह से लिया था। उन्होंने पूछा कि पति-पत्नी के बीच साली कौन होती है। उन्होंने कहा कि उसे कोई शिकायत है तो मुझे दे। मैंने ACP की ड्यूटी लगाई थी लेकिन वो शिकायत लेकर नहीं आई। वो बोलीं कि रिश्तेदारों का इंटरफेयरेंस एक हद तक ही होना चाहिए। उन्होंने कहा कि मुझे शिकायत दे, अगर झूठी निकली तो मैं उसके खिलाफ 182 IPC के तहत कार्रवाई करूंगी।

बच्चों के इंटरव्यू पर दिखाई नाराजगी

सोशल मीडिया पर लैहंबर के नाबालिग बच्चों का इंटरव्यू दिखाने पर भी चेयरपर्सन मनीशा गुलाटी ने कड़ी नाराजगी जताई। उनसे पूछा गया कि उन्होंने लैहंबर के घर के झगड़े के वीडियो को लेकर फटकार लगाने की बात कही थी तो उन्होंने कहा कि 14 साल की बच्ची के व्यूज दिखाए गए। कोई भी कानून से ऊपर नहीं है।

मंत्री चन्नी पर जवाब आया तो बताउंगी

चेयरपर्सन मनीशा गुलाटी ने कहा कि मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से जुड़े मामले में उन्हें न तो पंजाब महिला आयोग ने दोषी पाया और न ही सरकार ने। हर जगह यह सवाल उठता है लेकिन जब भी मुझे सरकार से जवाब आएगा तो मीडिया को जरूर बताउंगी।

NRIs की धोखेबाजी पर कानून की सिफारिश

मनीशा गुलाटी ने कहा कि पंजाब में 36 हजार लड़कियाें की जिंदगी NRI दूल्हों की वजह से खराब हुई है। वो पहले पूर्व वित्तमंत्री स्व. सुषमा स्वराज व PM और गृह मंत्री से मिली थीं। इसके लिए वो कानून की सिफारिश करने जा रही हैं। इस बारे में उन्होंने फिर से PM नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से समय मांगा है। एक लड़की को धोखा देकर भाग रहे दूल्हे का उन्होंने पासपोर्ट भी पुलिस की मदद से जब्त कराया है।

खबरें और भी हैं...