• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Amarinder Hit Back At Sidhu's Close Minister, Said Honesty Was Expected From The Former Hockey Captain; Pargat Told The Delay In Paddy Procurement Was A Conspiracy Of Captain BJP

सिद्धू के करीबी मंत्री पर अमरिंदर का पलटवार:कहा- पूर्व हॉकी कप्तान से ईमानदारी की उम्मीद थी; परगट ने धान खरीद देरी को बताया था कैप्टन-BJP की साजिश

जालंधर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अपने खिलाफ हो रही बयानबाजी पर कैप्टन अमरिंदर सिंह तीखा जवाब दे रहे हैं। इस बार उन्होंने नवजोत सिद्धू के करीबी और राज्य के खेल और शिक्षा मंत्री परगट सिंह पर पलटवार किया है। परगट सिंह ने कहा था कि पंजाब में धान की खरीद में देरी BJP और अमरिंदर सिंह की साजिश है। अब अमरिंदर ने इसे बकवास बताया। उन्होंने कहा कि भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान से उन्हें ईमानदारी की उम्मीद थी।

अमरिंदर ने पूछा कि क्या वाकई उन्हें लगता है कि पंजाब के लोग यह सोच सकते हैं कि मैं फसल खरीद में देरी करवाने के लिए BJP से मिल सकता हूं। अमरिंदर सिंह ने परगट सिंह को पूछा कि क्या वो भूल गए हैं कि फसल खरीद में देरी से भाजपा की सरकार वाला हरियाणा भी प्रभावित हुआ है। क्या परगट सिंह ऐसी बातों को नहीं समझ पाते।

अमरिंदर ने मांगे साजिश के सबूत

अमरिंदर ने परगट सिंह को पूछा कि इस झूठ का उनके पास कोई सबूत है। अमरिंदर यहीं नहीं रूके, उन्होंने कहा कि क्या परगट सिंह इतने लापरवाह हैं कि वो इन सब बातों से पूरी समस्या से पल्ला झाड़ सकते हैं। अमरिंदर ने कहा कि पंजाब के लोग मुझे जानते हैं। मैं हमेशा किसानों के साथ खड़ा रहा और आगे भी खड़ा रहूंगा।

कैप्टन अमरिंदर सिंह का परगट को जवाब।
कैप्टन अमरिंदर सिंह का परगट को जवाब।

यह कहा था परगट सिंह ने
केंद्र सरकार ने धान खरीद को 1 अक्टूबर के बजाय 10 अक्टूबर से किया तो किसानों ने पंजाब में कांग्रेसियों के घर घेर लिए। जालंधर में परगट सिंह का भी घर घेरा गया। इस दौरान परगट सिंह ने कहा कि धान खरीद शुरू होने से पहले अमरिंदर सिंह दिल्ली में अमित शाह से मिलने गए। अब इसमें देरी BJP और अमरिंदर की साजिश है। जिसके बाद अमरिंदर ने परगट को यह करारा जवाब दिया है।

पंजाब के खेल और शिक्षा मंत्री परगट सिंह।
पंजाब के खेल और शिक्षा मंत्री परगट सिंह।

सिद्धू के करीबी परगट सिंह, मंत्री बनते ही अलग तेवर
परगट सिंह नवजोत सिद्धू के करीबी रहे हैं। कैप्टन से नाराज होने के बाद वह सिद्धू के साथ खड़े रहे। कांग्रेसी विधायक होने के बावजूद CM रहते कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ बयानबाजी करते रहे। अब अमरिंदर का तख्तापलट हुआ तो परगट को इसका इनाम मिला। उन्हें खेल और शिक्षा मंत्री बना दिया गया।

इसके बाद परगट के भी तेवर बदल गए। सिद्धू नए सीएम से भी नाराज चल रहे हैं। जिस वजह से उन्होंने पंजाब कांग्रेस प्रधान पद से इस्तीफा दे दिया। उनके समर्थन में संगठन के सभी नेताओं और विधायक रजिया सुल्ताना ने भी मंत्री पद छोड़ दिया। हालांकि परगट सिंह ने संगठन महासचिव का पद नहीं छोड़ा। वो पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री के पद पर भी बने हुए हैं।

खबरें और भी हैं...