व्यवस्था बिगड़ी:आरसी, लर्निंग व पक्के लाइसेंस की अप्रूवल ठप, 1200 से अधिक हुई पेंडेंसी

जालंधर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसडीएम-2 दफ्तर में लाइसेंसों का काम निपटाते हुए मुलाजिम। - Dainik Bhaskar
एसडीएम-2 दफ्तर में लाइसेंसों का काम निपटाते हुए मुलाजिम।
  • एसडीएम-2 का तबादला हाे जाने के बाद लाइसेंसों की अप्रूवल रुकी

एसडीएम-2 का तबादला हाे जाने के बाद कार्यालय में लर्निंग, पक्के लाइसेंस के साथ आरसी की अप्रूवल का काम ठप है। करीब 600 लर्निंग, 500 पक्के और 100 आरसी का अप्रूवल नहीं हाेने के चलते लाेगाें काे लाइसेंस एवं आरसी नहीं मिल पा रहीं हैं। हालांकि कार्यालय में टेस्ट लेने के काम चल रहा है। यहां से प्रतिदिन 60 लर्निंग, 60 रिन्यूअल और 12 पक्के लाइसेंस बनते हैं, मगर अप्रूवल नहीं हाेने के चलते लगातार पेंडेंसी बढ़ रही है।

एसडीएम-2 राहुल सिद्धू का ट्रांसफर हाेने से पिछले महीने की 22 तारीख से लर्निंग, पक्के लाइसेंसों के अप्रूवल का काम ठप पड़ा है। टेस्ट देने के बाद लाइसेंस लेने के लिए हर दिन दर्जनों लोग आते हैं, लेकिन अप्रूवल न होने के चलते उन्हें वापस जाना पड़ता है। लर्निंग लाइसेंस का टेस्ट देने के बाद कुलदीप सिंह लगातार 10 दिनों से लाइसेंस लेने के लिए कार्यालय के चक्कर काट रहे हैं। वहीं रजिंदर पक्के लाइसेंस काे लेने के लिए कार्यालय कई दिनाें से आ रहे हैं, मगर अप्रूवल नहीं हाेने के चलते उनके लाइसेंस नहीं मिल पा रहे हैं।

एसडीएम-2 कार्यालय में शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों के लाेगाें के ड्राइविंग लाइसेंस बनते इनके अप्रूवल का काम होता है, जिसके चलते लाइसेंसों की पेंडेंसी लगातार बढ़ रही है। हालांकि जिला प्रशासन की ओर से पीसीएस हरदीप सिंह को एसडीएम-टू का अतिरिक्त चार्ज दिया है। पीसीएस हरदीप सिंह ने बताया कि उनकी लॉगइन आईडी भी बन चुकी है, जल्द ही पेंडेंसी खत्म कर दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...