पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • ASI Of Police Division Police Station Division 6, Taking 5 Thousand Bribes In Exchange For Giving RC Of The Car, Arrested

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रिश्वतखोर पुलिसवाला गिरफ्तार:कार की RC देने के बदले 5 हजार रिश्वत लेते हुए थाना डिवीजन 6 का ASI रंगेहाथ पकड़ा गया

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विजिलेंस टीम के साथ रिश्वत लेता पकड़ा गया ASI - Dainik Bhaskar
विजिलेंस टीम के साथ रिश्वत लेता पकड़ा गया ASI
  • नाइट कर्फ्यू की आड़ में जब्त की थी कार, कोर्ट से आदेश के बावजूद मांग रहा था रिश्वत

नाइट कर्फ्यू की आड़ में जब्त की गई कार की RC देने के बदले 5 हजार रुपए रिश्वत लेते कमिश्नरेट पुलिस के थाना डिवीजन 6 के ASI मनमोहन कृष्ण को विजिलेंस ने रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। कोर्ट के आदेश के बाद कार तो पुलिस ने दे दी लेकिन उसकी RC इस रिश्वतखोर ASI के कब्जे में थी। उसके खिलाफ विजिलेंस ने एंटी करप्शन एक्ट का केस दर्ज कर लिया है।

गुरदासपुर में ज्वेलरी शॉप चलाता है पीड़ित, मामा को देखने आया था जालंधर

गुरदासपुर के ओंकार नगर के रहने वाले रोबिन शर्मा ने बताया कि वह गुरदासपुर के मेन बाजार में पिता के साथ केवल कृष्ण एंड संस ज्वेलर्स के नाम से ज्वेलर का काम करता है। उसका ननिहाल जालंधर में है। उसके मामा राजकुमार बीमार थे, जिनका पता लेने के लिए 1 दिसंबर को वह जालंधर आया था।

मामा की दवा खत्म हो गई थी, लेने निकले तो ASI ने गिरफ्तार कर लिया

उनके मामा की दवाइयां खत्म हो गई थी, इसलिए वह दवाई लेने के लिए मामा के लड़के साहिल व रोहित शर्मा के साथ कार में बैठकर मिट्‌ठापुर रोड के नजदीक PPR मार्केट से निकल रहे थे। अचानक वहां कुछ पुलिस वाले सरकारी गाड़ी में आए। इनकी अगुवाई थाना 6 का ASI मनमोहन कृष्ण कर रहा था। उन्होंने कार रोक कर कहा कि कोरोना महामारी की वजह से रात 9 से सुबह 5 बजे तक का कर्फ्यू लगा हुआ है। रोबिन शर्मा ने कहा कि उसके मामा बीमार हैं, इसलिए वो दवा लेने आए हैं और मेडिकल स्टोर ढूंढ रहे हैं।

ASI तीनों को सरकारी गाड़ी में बिठाकर उन्हें व उनकी कार को थाने ले आए, जहां उनके खिलाफ केस दर्ज कर दिया। उसके मामा के लड़के ने अपनी बहन शैली को फोन किया। इसके बाद वो जमानत करवाने के लिए थाने आई और मौके पर जमानत करवा दी। इसके बाद रोबिन अगले दिन थाने गए और कार वापस लेने के लिए ASI मनमोहन कृष्ण से मिले। उसने कहा कि उनकी कार अब अदालत के आदेश से ही मिलेगी।

कोर्ट से सुपुर्ददारी ऑर्डर के बाद कार की चाबी दे दी लेकिन RC रख ली

वह कोर्ट से कार की सुपुर्दगी ऑर्डर लेकर आया और थाने में मुंशी को दिए। उस वक्त ASI कहीं बाहर गया हुआ था। उसने फोन पर ASI से बात की तो मुंशी ने कार की चाबी दे दी। इसके बाद उसने कहा कि अगर कार की RC लेनी है तो किसी दिन ASI से आकर मिल लेना। फिर वह 27 फरवरी को उससे मिला तो पहले उसने उसकी गैरहाजिरी में कार की सुपुर्दगी लेने पर एतराज जताया। उसने कहा कि RC लेने के लिए 15 हजार रुपए देने होंगे, वर्ना वो सुपुर्दगी कैंसल करवा देगा और कार पुलिस के कब्जे में ही रहेगी। उसकी मिन्नतें करने के बाद ASI ने 12 हजार रुपए ले लिए। जब उसने RC मांगी तो ASI ने 10 हजार रुपए और रिश्वत मांगी।

विजिलेंस के टोल फ्री नंबर पर दी सूचना, फिर लगा ट्रैप

रोबिन उसे रिश्वत नहीं देना चाहता था इसलिए उसने उसी दिन विजिलेंस ब्यूरो के टोल फ्री नंबर 180018001000 पर शिकायत कर दी। इसके बाद विजिलेंस के डीएसपी ने उसे अपने ऑफिस बुलाया। इसके बाद वह फिर अपने ममेरे भाई साहिल के साथ थाने गया तो ASI 5 हजार रुपए रिश्वत लेकर कार छोड़ने पर राजी हो गया। विजिलेंस ब्यूरो के SSP दलजिंदर सिंह ढिल्लो ने बताया कि इसके बाद विजिलेंस ब्यूरो की टीम बनाई गई और आरोपी ASI मनमोहन कृष्ण को 5 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया।

11 दिन में पकड़े 9 रिश्वतखोर, 5 पुलिस कर्मी शामिल

SSP दलजिंदर सिंह ढिल्लो ने बताया कि पिछले 11 दिन में 6 ट्रैप लगाकर 11 रिश्वतखोर पकडे जा चुके हैं। इनमें 4 ASI, 1 हेड कांस्टेबल, 2 पटवारी व 2 प्राइवेट एजेंट शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

और पढ़ें