राणा के करीबी सिक्की की मुश्किलें बढ़ीं:बैंक ऑफ इंडिया ने 6.35 करोड़ का डिफाल्टर बता आयोग को नामांकन स्वीकार न करने के लिए लिखी चिट्‌ठी

कपूरथला8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रमनजीत सिंह सिक्की - Dainik Bhaskar
रमनजीत सिंह सिक्की

पंजाब के कपूरथला के विधायक व मंत्री राणा गुरजीत सिंह के खासम खास खड़ूर साहिब विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के प्रत्याशी रमनजीत सिंह सिक्की की मुश्किलें बढ़ गई हैं। उनकी नामांकन प्रक्रिया पर बैंक ऑफ इंडिया ने ही सबसे बड़ा ऑब्जेक्शन लगा दिया है।

बैंक ऑफ इंडिया की चिट्ठी
बैंक ऑफ इंडिया की चिट्ठी

बैंक ऑफ इंडिया ने चुनाव आयोग के साथ-साथ डिप्टी कमिश्नर तरनतारन, एसडीएम खडूर साहिब को लिख चिट्ठी में कहा कि रमनजीत सिंह सिक्की की बैंक में 6 करोड़ 35 लाख की देनदारी है। वह डिफाल्टर हैं। इस संबंध में खड़ूर साहिब के रिटर्निंग अधिकारी तथा एसडीएम दीपक भाटिया ने पुष्टि करते हुए कहा कि कानून के आधार पर जो कार्रवाई होगी वह की जाएगी।

जानकारी के अनुसार, बैंक ऑफ इंडिया अवतार नगर जालंधर की ब्रांच ने 27 जनवरी को चीफ इलेक्शन कमिशन पंजाब को एक पत्र लिखकर सूचना दी कि खड़ूर साहिब से कांग्रेस के उम्मीदवार रमनजीत सिंह सिक्की की फर्म ने उनके बैंक से लोन लिया था, जिसकी बकाया राशि 6 करोड़ 35 लाख 28 हजार 478 रुपए 35 पैसे बकाया है। कई बार बैंक अधिकारियों द्वारा तकाजा करने के बाद ही वह अदा नहीं किए गए हैं।

बैंक ने चीफ इलेक्शन कमिशन पंजाब से मांग की है कि रमनजीत सिंह का नामांकन पत्र मंजूर ना किए जाए। बैंक ने इस पत्र की कॉपी चीफ इलेक्शन कमिशन ऑफ इंडिया, ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी प्रधान, पंजाब कांग्रेस प्रधान तथा डीसी तरनतारन को भी भेजी है।

खबरें और भी हैं...