• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Blood soaked Corpses Of Two Laborers Found In The Under construction Building, Used To Sleep Here At Night After Working As Laborers

जालंधर में MP के मजदूरों की हत्या का केस सुलझा:पिता की खुदकुशी और भाई की मौत का बदला लेने के लिए भांजे ने हथौड़े मारकर की हत्या, फरार होने से पहले पकड़ा गया

जालंधरएक वर्ष पहले
घटना की जांच करती पुलिस।
  • सगे मामा को जिम्मेदार मानता था आरोपी भांजा, पुलिस ने पकड़ा तो कबूली पूरी वारदात
  • उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के रहने वाले दोस्त के साथ मिलकर दिया हत्याकांड को अंजाम

ग्रेटर कैलाश कॉलोनी में मंगलवार सुबह करतारपुर के ग्लास कारोबारी के अंडर कंस्ट्रक्शन घर में सनसनी बने मध्यप्रदेश के दो मजदूरों की हत्या के केस को पुलिस ने सुलझा लिया है। यह कत्ल मरने वाले राम सरूप के भांजे राजा ने ही उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के रहने वाले दोस्त आकाश के साथ मिलकर किए थे। सोमवार रात जब राजा का सगा मामा राम सरूप और दूर के रिश्ते का मामा कोमल खाना बनाने की तैयारी कर रहे थे तो उस वक्त इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया। पुलिस ने राजा को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि उसका दूसरा साथी अभी फरार है। उसकी तलाश में पुलिस की टीम रेड कर रही है।

मामा को मानता था पिता की खुदकुशी का जिम्मेदार

पुलिस की शुरुआती पूछताछ में राजा ने बताया कि मध्यप्रदेश के छतरपुर का रहने वाला राम सरूप उसका मामा लगता था। कुछ समय पहले उसके पिता बच्चू यादव और मामा की बोलचाल हुई थी। मामा राम सरूप का उसके पिता बच्चू यादव के प्रति व्यवहार को लेकर भी राजा गुस्से में रहता था। इसी दौरान उसके पिता बच्चू यादव ने खुदकुशी कर ली। इसके बाद उसके छोटे भाई की भी अचानक मौत हो गई। राजा मानता था कि उसके पिता और भाई की मौत के लिए मामा राम सरूप ही जिम्मेदार था।

कत्ल के इरादे से बढ़ाई नजदीकी, बचाव करने आए दूसरे मामा को भी मार डाला

पिता और भाई की मौत के बाद राजा गुस्से से भर गया था। वह जालंधर आया और कत्ल के इरादे से ही अपने मामा से नजदीकी बढ़ाई। हत्याकांड को अंजाम देने के लिए उसने अपने साथी उत्तर प्रदेश के रहने वाले आकाश को भी साथ मिला लिया। इसके बाद सोमवार देर रात को दोनों मामा के यहां चले गए। वहां खाना बनाने की तैयारी होने लगी। इस मामले में उनके शराब पीने की भी बात सामने आ रही है। इसके बाद राजा ने पत्थर तोड़ने वाले हथौड़े से बेरहमी से वार कर मामा राम सरूप का कत्ल कर दिया। उसके दूर के रिश्ते में मामा लगते कोमल ने बीच-बचाव की कोशिश की तो आराेपियों ने उसकी भी हत्या कर दी। हत्या के बाद आकाश लुधियाना भाग गया, जबकि राजा को पुलिस ने जालंधर से ही गिरफ्तार कर लिया।

CCTV फुटेज में दिखे थे साथ, वहीं से खुला हत्या का राज

डबल मर्डर का पता चलते ही पुलिस डिपार्टमेंट में हड़कंप मच गया। इसके बाद CIA स्टाफ, स्पेशल ऑपरेशन यूनिट और थाना डिविजन की स्पेशल टीमें बनाई और CCTV फुटेज खंगालने शुरू कर दिए। इस दौरान कत्ल की रात यानी सोमवार को राजा और आकाश मृतक राम सरूप और कोमल के साथ दिखे थे। पुलिस ने जब इनके ठिकानों पर रेड की तो दोनों गायब मिले। फिर उनकी लोकेशन निकलवाई गई और राजा पुलिस के हाथ आ गया। पूछताछ में उसने इस जघन्य हत्याकांड को अंजाम देने की बात कबूल ली। हत्या के बाद उन्होंने हथौड़ा और खून से सने अपने कपड़े छुपा दिए। जिनको भी पुलिस रिकवर करने में जुटी हुई है।