पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Cases Increased By Two And A Half Times In 36 Days, More Infected With Habitation And Posh Area; 901 Positive In One Day For The First Time, 12 Died

कोविड वॉर:36 दिनों में ढाई गुना बढ़े केस, बस्तियात व पॉश एरिया से ज्यादा संक्रमित; पहली बार एक दिन में 901 पॉजिटिव, 12 की मौत

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दीपनगर श्मशानघाट में मृतक का बिना मुंह ढके संस्कार करते हुए परिजन। - Dainik Bhaskar
दीपनगर श्मशानघाट में मृतक का बिना मुंह ढके संस्कार करते हुए परिजन।
  • पहली अप्रैल से अब तक 17733 लोग पॉजिटिव, कुल संख्या-47355

कोरोना की दूसरी लहर में एक दिन में पहली बार संक्रमण के सबसे ज्यादा 901 मामले सामने आए हैं जबकि 12 लोगों की एक ही दिन में इलाज के दौरान मौत हो गई। ऐसा बीते 36 दिन में पहली बार हुआ है। कुल संक्रमितों की गिनती 47355 और मृतकों का आंकड़ा 1134 तक पहुंच गया है। विभाग की रिपोर्ट के अनुसार 12 में से 11 की मौत 5 मई को जबकि एक की 6 मई को हुई है। इनमें 22 साल की युवती से लेकर 84 साल के बुजुर्ग शामिल हैं।

बता दें कि कुल 950 केस पॉजिटिव आए हैं, जिनमें से 49 बाहरी जिलों के रहने वाले हैं, जिनकी गिनती जिले के आंकड़े में नहीं की गई। दूसरी तरफ से बीते 36 दिनों में 17733 मरीज संक्रमित पाए जा चुके हैं। जबकि 1 अप्रैल में 416 नए संक्रमित आने के बाद 6 मई को संक्रमितों के आंकड़ों में 2.4 फीसदी का इजाफा हुआ है। फिलहाल शहर के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में 1130 से अधिक मरीज दाखिल हैं। इनमें से 28 फीसदी मरीज दूसरे राज्यों के हैं। जो शहर के प्राइवेट अस्पतालों में कोरोनावायरस का इलाज करवा रहे है।

अप्रैल में 18 से 50 साल के सबसे ज्यादा संक्रमित मिले : सेहत विभाग की रिपोर्ट के अनुसार अप्रैल में कुल मरीजों के संक्रमित होने के पीछे 2.4 फीसदी तक का इजाफा हुआ है। अप्रैल में सबसे अधिक मामले 18 से 50 साल के उम्र के यानी 62.20 फीसदी सामने आए हैं। दूसरी तरफ कुल संक्रमितों की संख्या में 5.6 फीसदी बच्चे हैं। वहीं मई के 6 दिनों में 4437 मरीज सामने आ चुके हैं, जोकि अगस्त और सिंतबर के मुकाबले सबसे अधिक है। इलाज के दौरान कुल 43 मरीजों की मौत भी हुई है। यह सभी मरीज जालंधर में रहने वाले थे। सेहत विभाग के डॉक्टरों का कहना है कि जिले में रोजाना 6500 से अधिक सैंपलिंग हो रही है, जिसके चलते संक्रमित केस ज्यादा सामने आ रहे हैं।

संक्रमितों में 52.52% लोगों की उम्र 40 साल से अधिक
कोरोना का इलाज कर रहे डॉक्टर्स का कहना है कि वर्तमान में हर उम्र वर्ग का व्यक्ति संक्रमित आ रहे हैं। इनमें से ज्यादा मरीज 35 से 50 साल तक की उम्र के हैं। जिन लोगों को कोरोनावायरस की पुष्टि हो रही है, उनमें कई मरीज सह बीमारियों से भी पीड़ित है। जबकि अस्पतालों में भी दाखिल होने वालों की संख्या में 55 साल से अधिक है। इनमें भी जो मरीज अस्पताल में दाखिल हो रहे हैं, उन्हें सांस लेने की दिक्कत हो रही थी। फिलहाल वीरवार को एक ही दिन में 40 साल से अधिक उम्र के 901 में से 479 मरीज यानी 52.52 फीसदी रहे हैं।

सरकारी लैब से 38% संक्रमित जबकि प्राइवेट लैब से दर 62% रही
सेहत विभाग ने एक मई को जिन लोगों के सैंपल लिए गए थे, उनकी रिपोर्ट 6 मई को कुल संक्रमितों में शामिल की है। सरकारी लैब से 3 और 4 मई को लिए गए सैंपल्स की रिपोर्ट भी 6 मई को आई है। जबकि कई प्राइवेट लेबोरेट्री की तरफ से 24 से 30 अप्रैल की रिपोर्ट भेजी गई है, जिन्हें वीरवार की रिपोर्ट में शामिल किया गया है। विभाग की रिपोर्ट के अनुसार सरकारी लैब से कुल 359 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, जोकि कुल 38% है। वहीं प्राइवेट लेबोरेट्री से 591 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, जिसका कुल फीसद 62 रहा है।

2 अस्पतालों में दाखिल बिना एड्रेस वाले 9 मरीजों की हुई पहचान
जिला प्रशासन की तरफ से रविवार को जारी की गई कोरोनावायरस के बाहरी राज्यों के मरीजों की लिस्ट में जिन 9 मरीजों को बिना एड्रेस वाली सूची में रखा गया था, वे शहर के दो अस्पतालों में दाखिल थे। उनकी पहचान हो गई है। सभी कोविड का ही इलाज करवा रहे हैं। जेडीए ने स्पष्ट किया है कि इनमें से कोई भी मरीज डमी या फर्जी नहीं था। मामले की जांच करते हुए जालंधर डेवेलपमेंट अथॉरिटी ने एडिशनल डिप्टी कमिश्नर को दी रिपोर्ट में कहा है जिन कोविड मरीजों की रिपोर्ट में एड्रेस नहीं बताए गए थे, उस दिन उन मरीजों की सूची जिला राज्य और शहर नहीं बताया गया था। इसके अलावा दो मरीजों की सूची डेटा लिस्ट बनने के बाद आई थी। इस कारण उन मरीजों को बिना एड्रेस वाले कॉलम में शामिल किया गया था लेकिन अब उन मरीजों का डेटा अपडेट कर दिया गया है।

शहर के अंदरूनी इलाकों से ही नहीं, बाजारों से भी मिले कोरोना पॉजिटिव
देहात के आदमपुर, फिल्लौर, गोराया, शाहकोट, नूरमहल और नकोदर से संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। इसके अलावा शहर में कोरोनावायरस के ज्यादा मरीज बस्तियात के क्षेत्र बस्ती दानिशमंदां, बस्ती शेख, बस्ती पीरदाद, बस्ती गुजां, दिलबाग नगर के अलावा भीड़भाड़ वाले इलाकों से सामने आए हैं। दूसरी तरफ शहर के माई हीरां गेट के साथ सटे सूदां चौक के अलावा बाजारों से भी कोरोनावायरस के संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। वीरवार को जिन एरिया से ज्यादा मरीज सामने आए हैं, उन्हें शुक्रवार को माइक्रो और कंटेनमेंट की सूची में शामिल किया जाएगा।

आज लगेगी वैक्सीन, 10 हजार नई डोज पहुंची
जालंधर | सेहत विभाग के पास वीरवार को कोविशील्ड की 3 हजार और कोवैक्सीन की 7 हजार डोज आ गई है। टीकाकरण अफसर डॉ. राकेश चोपड़ा ने बताया कि कोवैक्सीन अभी गढ़ा पीएचसी की डिस्पेंसरी में ही लगाई जा रही है। जबकि कोविशील्ड सरकारी सेंटर्स और मोबाइल टीमों‌ की तरफ से लगाई जाएगी।

कर्फ्यू तोड़ा तो होगी तुरंत गिरफ्तारी
डीजीपी पंजाब दिनकर गुप्ता के ट्वीट के बाद जिले की पुलिस सख्त हो गई है। वीरवार को सीपी गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने कहा कि लोग सिर्फ इमरजेंसी में ही बाहर निकलें। कोई बेवजह बाहर घूमता है तो उसकी गाड़ी जब्त करके गिरफ्तार किया जाए। सीपी ने कहा कि अगर कोई कर्फ्यू का उल्लंघन करता है तो उसके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाए।

खबरें और भी हैं...