• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Congress Leader Anoop Pathak Suicide Case, Son Said Police Raid In Amritsar, Chandigarh, Shimla Only If The Accused Are Caught

आरोपियों की तलाश:कांग्रेसी लीडर अनूप पाठक सुसाइड केस, बेटे ने कहा- आरोपी पकड़े जाएंगे तो ही करेंगे संस्कार अमृतसर, चंडीगढ़, शिमला में पुलिस की रेड

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • बेटे की चेतावनी के बाद पुलिस ने अमृतसर, चंडीगढ़ और शिमला में रेड की, लेकिन रात तक कोई पकड़ में नहीं आया था

मॉडल टाउन में करीब 18 मरले की कोठी के विवाद में तंग किए जाने को लेकर जान देने वाले वार्ड-51 की कांग्रेस पार्षद राधिका पाठक के 47 साल के पति अनुपम पाठक उर्फ अनूप पाठक का तनावपूर्ण माहौल में शाम को पोस्टमार्टम तो हो गया, मगर बेटे करण पाठक ने कहा कि जब तक पिता की मौत के जिम्मेदार आरोपी नहीं पकड़े जाते, तब तक संस्कार नहीं करेंगे। बेटे की चेतावनी के बाद पुलिस ने अमृतसर, चंडीगढ़ और शिमला में रेड की, लेकिन रात तक कोई पकड़ में नहीं आया था।

इंद्रजीत चौधरी वासी रंजीत एवेन्यू (अमृतसर) और उनके पति रविंदर सिंह की टावर लोकेशन शिमला में आई थी। सांसद संतोख चौधरी, विधायक रजिंदर बेरी नंसंवेदना व्यक्त की। पुलिस पोस्टमार्टम प्रक्रिया के लिए फैमिली के साइन करवाने के लिए आई, मगर फैमिली इस बात पर अड़ गई कि पहले आरोपी पकड़ कर लाएं। जब तक आरोपी पकड़े नहीं जाएंगे, वे चुप नहीं बैठेंगे। बेटे करण ने कहा कि आरोपियों के अरेस्ट होने के बाद ही पिता का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

भगवान वाल्मीकि चौक में लगाना था धरना, कार्रवाई के भरोसे पर माने

शाम को भगवान वाल्मीकि चौक में दो घंटे धरना देने की बात कहीं गई। तीन बजे पुलिस ने पाठक फैमिली को पोस्टमार्टम को राजी कर लिया कि तीन टीमें रेड करने गई है। देर शाम एक टीम ने चंडीगढ़ के 20-डी सेक्टर स्थित मकान नंबर 3059 में रेड की। यह घर केस में नामजद अमरीक संधू का था। घर में सिर्फ संधू का नौकर मिला। पुलिस ने पूछा तो नौकर बोला- उसे नहीं पता कि साहब कहां हैं। अमरीक संधू के मोबाइल की लोकेशन भी चंडीगढ़ के अलग-अलग एरिया में आ रही थी। उधर, एसएचओ राजेश शर्मा ने कहा कि जांच में यह बात आई है कि इंदरजीत चौधरी अमृतसर के रंजीत एवेन्यू की रहने वाली है। केस में नामजद रविंदर सिंह इंदरजीत चौधरी का पति है। थाना-4 में पाठक के बेटे करण की स्टेटमेंट पर इंदरजीत चौधरी, उसके पति रविंदर सिंह और अमरीक संधू के साथ फैमिली मेंबर्स को आरोपी बनाकर आईपीसी की धारा 306 के तहत केस दर्ज किया गया था। करण ने कहा कि उनके पिता को इतना तंग किया गया कि उन्होंने अपनी जान दे दी।

परिवार को जान से मारने की धमकियां मिली तो फंदा लगाकर दी थी जान

करीब 6 महीने पहले पक्का बाग के रहने वाले कांग्रेसी लीडर अनुपम पाठक उर्फ अनूप पाठक की कौंसलर पत्नी राधिका पाठक ने किडनी देकर जान बचाई थी। मंगलवार शाम पाठक की पत्नी राधिका ने कॉल की तो उन्होंने फोन नहीं उठाया था। मां के कहने पर बेटा करण पाठक पक्का बाग स्थित घर पहुंचा तो सुसाइड का पता चला। पाठक ने फांसी लगाकर जान दी थी। हिंदी में लिखे 4 पेज के सुसाइड नोट में दादा की मॉडल टाउन स्थित करीब 18 मरले की कोठी के विवाद में इंदरजीत चौधरी और अमरीक संधू धमकियां दे रहे थे। सुसाइड नोट में पाठक ने लिखा था कि कमिश्नर साहब! मेरे घर गुंडे भेजे, सिर पर रिवॉल्वर तानी है। उसे लगातार डरवाया जा रहा है। मुझे और फैमिली को जान से मारने की धमकी दी जा रही है, जिससे वह तंग आकर जान दे रहा हूं।

खबरें और भी हैं...