• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Congress President Navjot Sidhu Furious For Calling Rakhi Sawant Of Punjab Politics, Told AAP's Punjab Co in charge Raghav Chadha As Monkey

विस चुनाव से पहले टूटने लगी भाषा की मर्यादा:पंजाब पॉलिटिक्स का राखी सावंत बताने पर भड़के कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू, AAP के सह प्रभारी राघव चड्‌ढा को बताया बंदर

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 में अभी 5 महीने का वक्त बाकी है, लेकिन नेताओं की भाषा की मर्यादा अभी से टूटने लगी है। ताजा मामले में कृषि सुधार कानूनों का विरोध करते-करते पंजाब में कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू व आम आदमी पार्टी (AAP) के पंजाब सह प्रभारी राघव चड्‌ढा आमने-सामने हो गए हैं। सिद्धू ने दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल को मगरमच्छ के आंसू बहाने की बात कही थी। जिसके जवाब में राघव चड्‌ढा ने तंज कसते हुए कहा था कि सिद्धू पंजाब की पॉलिटिक्स के राखी सावंत हैं। इस पर अब सिद्धू ने भी करारा जवाब देते हुए चड्‌ढा को बंदर कह दिया। उनके बीच ट्विटर पर ही यह वार चल रही है।

नवजोत सिद्धू ने ट्वीट किया- कहा जाता है कि इंसान बंदर से बना है, लेकिन राघव चड्‌ढा आपके दिमाग को देखकर लगता है कि आप अभी भी बंदर से इंसान बनने की प्रक्रिया में हो। आपने अभी तक दिल्ली में तीन कृषि कानूनों में से एक कानून को लागू करने को लेकर कोई जवाब क्यों नहीं दिया।

सिद्धू ने शुक्रवार को AAP के साथ अकाली दल पर भी निशाना साधा था।
सिद्धू ने शुक्रवार को AAP के साथ अकाली दल पर भी निशाना साधा था।

कृषि कानूनों को एक साल पूरा होने पर सिद्धू ने केजरीवाल से पूछा था सवाल

नवजोत सिद्धू ने कृषि सुधार कानून बने एक साल पूरा होने पर कहा था कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने प्राइवेट मंडियों के लिए केंद्र के 3 में से एक कानून को लागू कर दिया। इसके बाद विधानसभा बुलाकर कृषि सुधार बिल फाड़ने का ड्रामा किया। सिद्धू ने पूछा था कि क्या केजरीवाल सरकार ने उस कानून को डी-नोटिफाई किया।

सिद्धू को जवाब में राघव चड्‌ढा ने यह ट्वीट किया था।
सिद्धू को जवाब में राघव चड्‌ढा ने यह ट्वीट किया था।

बदले में चड्‌ढा ने सिद्धू को बताया राखी सावंत

AAP पंजाब के सहप्रभारी राघव चड्‌ढा ने सिद्धू के ट्वीट के जवाब में कहा था कि सिद्धू पंजाब पॉलिटिक्स के राखी सावंत हैं। कांग्रेस हाईकमान से खिंचाई होने के बाद वह अरविंद केजरीवाल की आलोचना कर रहे हैं। यह थोड़ी देर का बदलाव है, इसके बाद वह फिर कैप्टन अमरिंदर सिंह पर निशाना साधने लगेंगे।

खबरें और भी हैं...