पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी व कोटकपूरा गोलीकांड मामला:जालंधर में SIT जांच खारिज करने के हाईकोर्ट के फैसले की कॉपी फूंकी, पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी

जालंधर5 महीने पहले
DC ऑफिस के बाहर हाईकोर्ट के फैसले की कॉपी जलाते सत्कार कमेटी में मेंबर।

श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी व कोटकपूरा गोलीकांड के संबंध में श्री गुरु ग्रंथ साहिब सत्कार कमेटी ने जालंधर के DC ऑफिस के बाहर प्रदर्शन किया। उन्होंने इस मामले में स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (SIT) के मेंबर IPS अफसर कुंवर विजय प्रताप की रिपोर्ट खारिज किए जाने के पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट के फैसले की कॉपी फूंकी। इस दौरान पंजाब सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि इस मामले की ढंग से पैरवी नहीं की गई। जिस वजह से सिखों के हृदय को गहरी चोट पहुंची है।

सत्कार कमेटी के गुरिंदर सिंह जमशेर ने कहा कि पंजाब में हुई बेअदबी व गोलीकांड को लेकर चार पक्ष जिम्मेदार हैं। पहला सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा है। जिसके मुखी ने गुरु साहिब की पोशाक पहनकर ऐसी परिस्थितियां पैदा की। दूसरा बादल परिवार है, जिनकी सरकार के वक्त बेकसूर सिखों पर गोलियां बरसाई गई। तीसरा CM कैप्टन अमरिंदर सिंह हैं, जिन्होंने सिखों को इंसाफ दिलाने की कसम खाई लेकिन बाद में बादल परिवार से साठगांठ कर ली। चौथी शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी(SGPC) है, जिनके सामने यह सब हुआ लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया।

उन्होंने कहा कि कोरोना की वजह से कुछ लोग ही प्रदर्शन करने पहुंचे हैं लेकिन हाईकोर्ट के इस फैसले से सिखों के दिल को ठेस लगी है। हम कई सालों से इंसाफ का इंतजार कर रहे हैं। कुंवर विजय प्रताप ने सही ढंग से जांच भी की लेकिन अब हाईकोर्ट के फैसले से हमें यकीन हो गया है कि इस धरती पर सिखों को इंसाफ नहीं मिलेगा।

खबरें और भी हैं...