पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मशीन आपरेटर बन माल्टा गए 3 लोग फंसे:सोशल मीडिया पर रोया दुखड़ा, बंधक बना टॉर्चर कर रहे, मरने को हो चुके मजबूर, जालंधर पुलिस ने कंपनी मालिक को तलब कर छुड़ाए

जालंधर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
माल्टा से छुड़ाए लोगों के साथ DCP गुरमीत सिंह व अन्य पुलिस अफसर। - Dainik Bhaskar
माल्टा से छुड़ाए लोगों के साथ DCP गुरमीत सिंह व अन्य पुलिस अफसर।

पंजाब से मशीन ऑपरेटर का काम करने के लिए गए एक महिला समेत 3 लोग माल्टा में फंस गए। वहां उन्हें बंधक बना लिया गया और मारपीट समेत शारीरिक तौर पर प्रताड़ित किया गया। इससे दुखी होकर जालंधर के व्यक्ति ने सोशल मीडिया पर दुखड़ा रोया। उसने कहा कि अगर उन्हें नहीं छुड़ाया गया तो वो खुदकुशी कर लेगा। इसका पता चला तो पुलिस हरकत में आई। जिस कंपनी ने उन्हें माल्टा भेजा था, उसके मालिक को बुलाया गया। जिसके बाद तीनों को पुलिस छुड़वाने में कामयाब रही।

जालंधर के व्यक्ति ने डाला था वीडियो

DCP गुरमीत सिंह ने बताया कि जालंधर के रहने वाले सागर का वीडियो सोशल मीडिया से पुलिस तक पहुंचा। उसके साथ जालंधर का ही अर्शदीप व लुधियाना की कृष्णा देवी भी थी। तीनों को A&Z एक्सपोर्ट्स ने मशीनरी के साथ इन्हें भी माल्टा भेज दिया। उन्हें 14 दिन के लिए दुबई में रखा गया और फिर आगे माल्टा भेज दिया गया।

पुलिस कमिश्नर को पता चला तो लगाई अफसरों की ड्यूटी

वीडियो के बारे में जब पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत भुल्लर को पता चला तो उन्होंने तुरंत अफसरों की ड्यूटी लगाई। उन्होंने पूरे मामले की जांच कर अफसरों को कार्रवाई के लिए कहा। जिसके बाद A&Z कंपनी के मालिक को बुलाया गया। इसके बाद तीनों को वापस लाकर परिवार से मिला दिया गया है।

पीड़ितों ने धन्यवाद कहा, पुलिस बोली-लिखित शिकायत दी तो कंपनी पर कार्रवाई

पीड़ितों ने पंजाब सरकार व कमिश्नरेट पुलिस का धन्यवाद किया। DCP ने कहा कि इसके लिए जिम्मेदार व्यक्ति के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करेगी। इसके लिए पीड़ितों की तरफ से लिखित शिकायत का इंतजार किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...