• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Death Of Minor Due To Drug Overdose; 1 Year Ago Father's Death, Grandmother Said Son's Grief Is Not Forgotten, Now Grandson Has Passed Away

नशे ने ले ली एक और जान:नशे की ओवरडोज से नाबालिग की मौत; 1 साल पहले पिता की हो चुकी मौत, दादी बोली- बेटे का गम भूला नहीं, अब पोता चल बसा

फिल्लौर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जगतपुरा गांव में शनिवार देर रात नशे की ओवरडोज से 17 साल के नाबालिग की मौत हो गई। मृतक की पहचान गांव में रहने वाले मनी के रूप में हुई है। उसके दोस्तों और परिजनों ने बताया कि मनी दो महीने से चिट्टा छोड़ने की कोशिश कर रहा था। शनिवार को शाम के समय मनी ने गांव में ही चिट्टा पी लिया और बर्दाश्त से बाहर होने पर वह घर चला गया।

रात 10:30 बजे वह वाशरूम गया तो वहीं गिर गया। उसके सिर में चोट लगी और मुंह से झाग निकलने लगी। परिजनों ने उसे बाहर निकाला तो उसे सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। उसे तुरंत सिविल अस्पताल लाया गया तो शरीर का रंग नीला पड़ चुका था। कुछ ही देर बाद उसने दम तोड़ दिया।

मनी की मौत के बाद मां और दादी का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। एक साल पहले ही उसके पिता बिल्ला का देहांत हो गया था। मनी के पिता ही परिवार की कमाई का साधन थे। दादी रोते हुए बोलीं, अभी बेटे के दुख से वे निकल नहीं पाई थीं और अब पोता छोड़कर चला गया।

उन्होंने बताया कि उन्हें पहले नहीं पता था कि पोता मनी चिट्टे का आदी हो चुका है लेकिन अब वह काफी सुधर गया था। उन्होंने पुलिस से नशा कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

खबरें और भी हैं...