पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही का नतीजा:लॉकडाउन के बावजूद सूबे में पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन के इस्तेमाल में 32% की ही कमी आई

जालंधर25 दिन पहलेलेखक:  आशीष चौरसिया
  • कॉपी लिंक
पंजाब में 13% का इजाफा देखा गया। - Dainik Bhaskar
पंजाब में 13% का इजाफा देखा गया।
  • कोरोना की दूसरी लहर से पंजाब में बढ़ी पॉजिटिविटी दर की वजह मोबिलिटी भी रही
  • आवाजाही ज्यादा रहने से 13 फीसदी से ऊपर पहुंच गई थी संक्रमण दर

कोरोना काल में लागू पाबंदियों के बावजूद पंजाब के लोगों की आवाजाही पड़ोसी राज्यों हिमाचल और हरियाणा से ज्यादा रही। यही कारण है सूबे में संक्रमण दर अधिक रहा और मौतें भी ज्यादा हुईं। इस बात का खुलासा 24 मई को जारी गूगल की मोबिलिटी रिपोर्ट में हुआ है।

इसमें बताया गया है कि लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग जैसी पाबंदियों की वजह से पार्क, रिटेल स्टोर्स, सुपरमार्केट्स, दवा की दुकानों, दफ्तरों में आने-जाने पर कितना असर पड़ा। रिपोर्ट में 12 अप्रैल को बेस लाइन माना गया है। यानी 12 अप्रैल के बाद हुई गतिविधियों के आधार पर रिपोर्ट तैयार की गई है।

रिटेल शॉपिंग में हिमाचल में 60%, हरियाणा में 50% तो पंजाब में 31 प्रतिशत की ही कमी दर्ज की गई
रिटेल शॉपिंग में हिमाचल में 60%, हरियाणा में 50% तो पंजाब में 31 प्रतिशत की ही कमी दर्ज की गई

इसके अनुसार पंजाब में पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन के इस्तेमाल मेंं जहां 32% की गिरावट दर्ज की गई वहीं, हरियाणा में 53 प्रतिशत और हिमाचल में 40% की कमी देखी गई। मोबिलिटी की वजह से ही पंजाब में 12 अप्रैल से लेकर 24 मई के बीच में संक्रमण दर 13 प्रतिशत से ज्यादा हो गई थी। रिपोर्ट के अनुसार इस अव‌धि के दौरान पंजाब में पार्क जाने और सैर करने की एक्टिविटी में 23% की कमी दर्ज हुई वहीं, हरियाणा में यह 44% तो हिमाचल में 30% की गिरावट देखी गई।

कार्यस्थलों पर जाने में भी पंजाबी रहे आगे

कार्यस्थलों पर जाने में भी पंजाब के लोग संक्रिय दिखे। पाबंदियों के बीच हरियाणा में कार्यस्थलों पर जाने की गतिविधियों में जहां, 42% की कमी देखी गई तो वहीं, हिमाचल में 40% और पंजाब में 26 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई। रिटेल शॉपिंग और मनोरंजन जैसी गतिविधियों में भी पंजाब पड़ोसी राज्य हिमाचल और हरियाणा से आगे रहा। रिटेल शॉपिंग और मनोरंजन एक्टविटि में जहां पंजाब में 31% की गिरावट देखी गई वहीं, हरियाणा में 50% तो हिमाचल में 60% की गिरावट देखी गई। यानि हरियाणा और हिमाचल के लोग ज्यादा संयमित रहे।

आवासीय स्थलों (रेजिडेंशियल) पर आवाजाही में हिमाचली रहे आगे

लॉकडाउन और पाबंदियों के बीच आवासीय स्थलों (रेजिडेंशियल) पर आवाजाही में हिमाचल के लोग आगे रहे। हिमाचल में जहां इस प्रकार की गतिविधियों में 21 प्रतिशत का इजाफा देखा गया तो वहीं हरियाणा में यह 19 प्रतिशत और पंजाब में 9 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई। इसी तरह सुपरमार्केट्स और फार्मेसी की दुकान पर आने-जाने की एक्टिविटी में हरियाणा और हिमाचल में जहां क्रमश: 20% और 32% की कमी देखी गई वहीं इस दौरान पंजाब में 13% का इजाफा देखा गया।

खबरें और भी हैं...