पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पोस्ट कोविड इफेक्ट:दिमाग से लेकर पेनक्रियाज पर दिखने लगा असर 20 में से 1 मरीज को शुगर, सांस लेने में तकलीफ

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इलाज करवा चुके कई मरीजों को दोबारा होने लगी दिक्कत
  • लापरवाही न बरतें बुखार है तो घर पर न बैठे रहें, जल्द करवाएं टेस्ट

(प्रभमीत सिंह)
कोरोनावायरस का संक्रमण केवल फेफड़ों पर ही हो रहा है, यह धारणा अब उलट होने लगी है। ठीक होने वाले मरीजों में कोरोना के पोस्ट कोविड इफेक्ट दिखने लगे हैं। डाॅक्टरों के मुताबिक कोरोना का असर फेफड़ों पर ही नहीं, बल्कि पूरे शरीर पर हुआ है। दिमाग से लेकर पेनक्रियाज तक कोरोना ने प्रभाव छोड़ा है।
संक्रमितों को लंग्स फाइब्रोसिस यानी फेफड़ों का पूरी तरह काम नहीं होने की समस्या आने लगी है। ऐसे मरीजों को सांस लेने में दिक्कत और बुखार की शिकायत हो रही है।

इसके अलावा कई मरीज ऐसे हैं, जिन्हें न्यूमोपेरिकार्डियम यानी दिल के इर्द-गिर्द हवा भरने की शिकायत हुई है। इस अवस्था में मरीज की हालत एकदम सीरियस हो जाती है। डॉक्टरों का कहना है कि अगर किसी को बुखार हो रहा है तो वह घर में न बैठे, जल्द से जल्द अपना टेस्ट करवाए।

संक्रमण के कारण पेनक्रियाज पर बढ़ा दबाव...संकमण का दबाव पेनक्रियाज पर पढ़ने के कारण शुगर के मरीजों पर असर पड़ा। डॉक्टरों का कहना है कि शरीर में जब स्टेरायड जाते हैं तब बॉडी का शुगर लेवल बढ़ जाता है। वहीं पेनक्रियाज बॉडी के शूगर लेवल को स्थिर रखता है। पेनक्रियाज इफेक्ट होने के कारण शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ी। जो मरीज काफी समय से शराब का सेवन कर रहे थे, उनके लिए भी कोरोना घातक साबित हो रहा है। एेसे मरीजों की किडनी और दिल पर विपरीत प्रभाव पड़े हैं।

डॉक्टर बोले- बिना सलाह न लेें दवा

दिमाग पर असर डाला : डॉ. गोयल
लेवल-2 मरीजों में से 50 फीसदी को दिमाग संबंधी दिक्कत आई है क्योंकि वायरस ने फेफड़ों के साथ मेंटल हेल्थ पर भी प्रभाव छोड़ा है। जो मरीज मल्टीटास्किंग थे, वे अपने काम पर फोकस नहीं कर पा रहे। जबकि कुछ मरीजों को मेमोरी लाॅस भी हुआ है, जो कुछ समय बाद ठीक हो जाता है। इसके अलावा मांसपेशियों में कमजोरी आने से मरीज थका हुआ महसूस करता है।

हार्ट संबंधी दिक्कतें आ रहीं : डॉ. गुप्ता
डॉ. बलराज गुप्ता का कहना है कि पोस्ट कोविड ट्रीटमेंट में जो मरीज ठीक हो रहे हैं, उनमें हार्ट संबंधी दिक्कतें आ रही हैं। इसे मायोकॉर्डिस्ट कहा जाता है। डॉ. बलराज का कहना है कि उनके पास एक मरीज आया, जिसे 24 अगस्त को कोरोना हुआ था। ठीक होने के बाद उसे पिछले 5 दिन से दोबारा बुखार आ रहा है। उसकी चेस्ट में इंफेक्शन भी दिखाई दे रही है।

जोड़ों के दर्द की समस्या आ रही...एमएस ऑर्थो डॉ. नरेश चोढा का कहना है कि जिन लोगों को कोरोनावायरस की पुष्टि हुई थी, उन्हें अब कमजोरी व घुटनों में दर्द की दिक्कत आ रही है। कई मरीज जोड़ों के दर्द से पीड़ित हो रहे हैं। पहले तो ऐसा लगता है जैसे गठिया हुआ है जबकि ऐसा नहीं हैं। मरीज बिना डॉक्टर की सलाह के दवा न लें।

शुगर के मरीज बढ़ रहे...डॉ. आरपीएस छाबड़ा कहते हैं कि कोरोना ने कोमोरबिड मरीजों को इफेक्ट किया है। हालात यह हैं कि कई मरीजों को कोरोना संक्रमण के समय शुगर नहीं थी लेकिन अब 20 में से 1 मरीज ऐसा सामने आ रहा है, जिसे शुगर है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें