पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Electricity Bill For Fan bulb Only Rs 46,950; 10,260 Fines Were Also Paid, The Officers Said – Pay In 15 Days Or Else They Will Lock The House, Sell Toys To Survive

जालंधर में दिव्यांग दंपती पर सरकारी 'जुल्म':सिर्फ पंखे-बल्ब का बिजली बिल 46,950 रुपए; 10,260 जुर्माना भी ठोका, अफसर बोले- 15 दिन में भरो वर्ना घर को ताला लगा देंगे, खिलौने बेच करते हैं गुजारा

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दिव्यांग दंपती के घर पहुंचे अकाली विधायक पवन टीनू। - Dainik Bhaskar
दिव्यांग दंपती के घर पहुंचे अकाली विधायक पवन टीनू।
  • 6 महीने से काटी गई है बिजली, प्रतिक्रिया देने से बच रहे अफसर, अकाली विधायक टीनू बोले- हल कराएंगे मामला

जालंधर में खिलौने बेचकर गुजारा करने वाले दिव्यांग दंपती पर सरकारी 'जुल्म' का मामला उजागर हुआ है। उनके घर में न तो फ्रिज व TV है और न ही AC या वाशिंग मशीन। सिर्फ पंखा व बल्ब के बदले पावरकॉम ने उन्हें जनवरी में 46,950 रुपए का बिल भेज दिया। करीब 6 महीने से वो बिना बिजली के हैं। इसके बाद किसी ने उनको सीधी तार डालकर दे दी तो पावरकॉम अफसरों ने रेड डाल दी और 10,260 रुपए का जुर्माना भी ठोक दिया। अब उन्हें नोटिस भेज दिया कि 15 दिन में पूरे रुपए जमा करो, वर्ना उनका घर सील कर देंगे। अब पावरकॉम अफसर इस पूरे मामले पर चुप्पी साधकर बैठ गए हैं।

बिना बिजली के घर में परेशान बैठे बुजुर्ग दंपती।
बिना बिजली के घर में परेशान बैठे बुजुर्ग दंपती।

दिव्यांग हैं, अफसरों के चक्कर नहीं काट सकते, दूसरे के घर में रह रहे

गांव तल्हन में रहने वाले पुरषोतम व कश्मीरो ने कहा कि उनका बिल हमेशा गलत भेजा गया। उसमें ज्यादा यूनिट डाल दी गई। वो दोनों दिव्यांग हैं, बार-बार अफसरों के चक्कर नहीं काट सकते। फिर भी वो गए थे, लेकिन कहा गया कि मीटर रीडिंग प्राइवेट तौर पर ली जाती है, इसलिए वो चेक करा लेंगे। वो तो गुरुद्वारा साहिब के पास खिलौने बेचते हैं, वहां भी काम बंद हो गया। ऐसे में न उनसे इतना अधिक बिल भरा जा सका और न पावरकॉम ने उसे ठीक किया। इस वजह से अब वाे दूसरे के घर में सोने जाते हैं। उनकी बारहवीं पास बेटी को भी दूसरे के घर में रहना पड़ता है।

MLA टीनू बोले- एक्सईएन ने इसे सरकार का हुक्म बताया, तरस खाओ कैप्टन साब

परिवार की परेशानी का पता चला तो अकाली दल के आदमपुर से MLA पवन टीनू उनके घर पहुंचे। टीनू ने कहा कि एक्सईएन ने फोन पर कहा कि यह सरकार का हुक्म है, जाे बिल नहीं देते, उनका कनेक्शन काट दो। अब वो कह रहे हैं कि जुर्माना समेत बिल भरो तो कनेक्शन जोड़ देंगे। उन्होंने कहा कि पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार को ऐसे जरूरतमंद परिवारों पर तरस खाना चाहिए। मजबूर लोगों को इस तरह परेशान करना इंसानियत नहीं है। उन्होंने कहा कि नवजोत सिद्धू के घर 25 AC चलते हैं और 17 लाख से ज्यादा बिल पेंडिंग था, फिर भी कनेक्शन नहीं कटा। एक राज्य में एक विभाग के दो कानून क्यों हैं?। उन्होंने भरोसा दिया कि वो पीड़ित परिवार की मदद करेंगे।

खबरें और भी हैं...